जागरण संवाददाता, पानीपत शहर के वार्ड 17 राजनगर पीर बाबा वाली गली वासी लोग नरकीय जीवन जीने को मजबूर है। निर्माण के नाम पर उखाड़ी गई गलियों में जमा पानी और कीचड़ के बीच जहां घरों से बाहर तक निकलना दूभर हो चुका है। वहीं नलकूप की पानी सप्लाई पाइप तक टूटने पर घरों में गंदा पानी आ रहा है। गलियों में लगी स्ट्रीट लाइटें भी खराब है। ऐसे में समस्याओं से परेशान गली वासियों ने शुक्रवार को पार्षद और निगम अधिकारियों पर अनदेखी का आरोप लगा रोष जताया। साथ ही चेतावनी देते हुए कहा कि यदि जल्द ही समस्याओं को समाधान नहीं होता है तो वो निगम कार्यालय पर धरना देने को मजबूर होंगे। छह माह पहले उखाड़ी थी गली -- गली वासी कांता, सरोज, राखी, उर्मिला, मोनू, गौतम, दीपक, अमन, नूरद्दीन, राहुल, अली ने बताया कि इंटरलॉ¨कग टाइल से बनी उनकी गली को करीब छह माह पहले निर्माण के नाम पर उखाड़ा गया था। इसके बाद बराबर में नालों के निर्माण का काम शुरू हुआ। आधे के करीब नाले बने, लेकिन निगम कमिश्नर और एक्सईएन ने निरीक्षण के दौरान लेवल खराब व सामग्री ठीक न लगाने पर काम को रूकवा दिया गया था। जो आज तक शुरू नहीं हो पाया है। उन्होंने बताया कि गली उखड़ने पर उबड़ खाबड़ होने के साथ जरा सी बारिश होने पर पानी जमा होने के साथ कीच्चड़ से उनका निकलना तक दूभर हो रहा है। हाल में भी हर रोज कोई न कोई गिरकर चोटिल हो रहा है। उक्त समस्या से पार्षद भली भांति परिचित है, लेकिन जल्द निर्माण का आश्वासन देकर टाला जा रहा है। पाइप लीकेज, घर में गंदा पानी सप्लाई -- लोगों ने बताया कि पीर बाबा के पास में ही नलकूप लगा हुआ है। उसी से उनके घरों में पीने के पानी की सप्लाई होती है। उन्होंने बताया कि पिछले कुछ दिन से नलकूप के पास ही सप्लाई पाइप लीकेज होने के कारण गंदा पानी आ रहा है। कोई और व्यवस्था न होने पर मजबूरन उन्हें गंदा पानी ही प्रयोग करना पड़ रहा है। ऐसे में डायरिया जैसी बीमारी फैलने का भय बना हुआ है। लाखों से लगाई लाइट भी खराब -- गली वासियों ने बताया कि पीर बाबा के पास में कई साल पहले पूर्व पार्षद ने लाखों रुपये की लागत से टावर लाइट लगवाई थी। जो कुछ दिन तक जली और फिर केबल खराब होने के कारण उसके बाद से बंद पड़ी है। ऐसे में शाम होते ही आस पास में अंधेरा छा जाता है। वो कई बार पार्षद को केबल ठीक करवा लाइट जलवाने के लिए कह चुके है, परंतु कोई सुध नहीं ली जा रही है। ठेकेदार को कई बार कह चुका हूं -- महिला पार्षद पति जसमेर शर्मा ने बताया कि नालों का लेवल व लगाई जा रही निर्माण सामग्री ठीक न होने पर निगम अधिकारियों ने काम रूकवा दिया था। वो ाकाम शुरू कराने के लिए कई बार ठेकेदार को कह चुका है। ठेकेदार जेई द्वारा लेवल बनाने पर ही काम शुरू करने की बात कह रहा है। आज जेई से भी उन्होंने बात की थी, उन्होंने जल्द ही समय निकाल मौका निरीक्षण कर काम शुरू कराने का आश्वासन दिया है। जहां तक बात टावर लाइट खराब होने की है, उसकी मुझे कोई जानकारी नहीं है। --रामकुमार, 9 जनवरी 2020--

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस