पानीपत, [सुनील मराठा]। थर्मल के उरलाना खुर्द गांव में वज्रपात की वजह से सात लोग झुलस गए। इनमें छह महिलाएं और एक अधेड़ है। सभी को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से छह महिलाओं को पीजीआइ रोहतक रेफर कर दिया गया। बताया जा रहा है कि सभी लोग बारिश की वजह से बरगद के पेड़ के नीचे खड़े थे।

दरअसल मानसून की पहली बारिश होने पर किसान खेतों में धान रोपाई के लिए पहुंचे थे। जीतगढ़ गांव निवासी पूर्व सैनिक बलवान (65) के खेत में धान रोपाई की जिम्मेदारी उरलाना खुर्द गांव की नौ महिलाओं की टोली ने लिया था। खेत में बलवान भी था। करीब 12 बजे अचानक तेज बारिश की वजह से सभी खेत से लगते उरलाना खुर्द सरपंच सरदार बलविंद्र सिंह के खेत में लगे बरगद के पेड़ के नीचे बैठ गए। तीन महिलाएं राजवंती पत्नी बलवीर (35), रीना पत्नी जयवीर (30), संतोष पत्नी कर्मवीर (38) खेत में कमरे में आ गईं। 

panipat rain

आसपास के खेत में काम कर रहे किसान भागे
अचानक पेड़ पर वज्रपात हुआ और छह महिलाओं सहित बलवान झुलस गए। जब तक कोई समझ पाता सभी खेत में गिर पड़े। पास के खेत में काम कर रहे किसान दौड़ पड़े और सभी को अस्पताल ले गए। बलवान को सफीदो के सामान्य अस्पताल ले जाया गया, जबकि छह महिलाओं को पानीपत के सिविल अस्पताल ले जाया गया। यहां से सभी को पीजीआइ रोहतक रेफर कर दिया गया। 

panipat weather

ये महिलाएं झुलसीं
चंद्रपति पत्नी सुभाष (40), विद्या पत्नी रामफल (50), विद्या पत्नी इंद्रजीत (43), शीला पत्नी सतपाल (45), रीना पत्नी राजसिंह (40), नीलम पत्नी राममेहर (35)। 

  • बरतें सावधानी
  • हरे पेड़ के नीचे न खड़े हों।
  • बिजली के खंभों और मोबाइल टॉवर, बिजली के तारों से दूरी बनाएं रखें। 
  • विद्युत उपकरणों का उपयोग न करें। मोबाइल व टेलीफोन का उपयोग नहीं करें।
  • किसी जल स्त्रोत में तैर या नहा रहे हैं तो उससे निकल कर भूमि पर आ जाएं।
  • अगर मैदानी क्षेत्र में हैं तो हाथों से बालों को ढ़क कर सिर को घुटनों में छुपा लें।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Anurag Shukla