जलमाना में नेशनल हाईवे 709 ए पर धरना देकर डटे आंदोलनकारी। जलमाना में नेशनल हाईवे 709 ए पर धरना देकर डटे आंदोलनकारी। ustify;">पानीपत, जागरण टीम। किसान संगठनों के भारत बंद के आह्यन के बाद से हाईवे और रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शनकारी बैठ गए हैं। किसी वाहन को आने जाने नहीं दिया जा रहा है। कई जगहों पर एंबुलेंस और बरात भी फंसी है। रेलवे ट्रैक पर लोग बैठ गए हैं। इससे ट्रेनें भी फंस गई हैं। दिल्‍ली-चंडीगढ़ नेशनल हाईवे, ग्रामीण क्षेत्रों के लिंक मार्गों, जींद-नरवाना, जींद हिसार, जींद पानीपत सहित कई यमुनानगर, अंबाला, करनाल और कुरुक्षेत्र जाने वाले रास्‍तों पर भी प्रदर्शनकारी बैठे हैं। इससे आवागमन पूरी तरह से ठप हो गया है।

जींद। सब्जी मंडी में बंद का असर। सब्जियां लेकर बहुत कम किसान पहुंचे। फुटकर सब्जी विक्रेता शमशेर ने बताया कि ग्राहक भी कम है। जिससे सब्जियों के भाव कम हुए हैं।

करनाल: जलमाना में नेशनल हाईवे 709 ए पर धरना देकर डटे आंदोलनकारी।

 

करनाल। दुकानदारों ने आंदोलनकारियों के समर्थन में स्वेच्छा से की दुकानें बंद।

कुरुक्षेत्र।अंबाला हिसार हाइवे पर चौंक का नामकरण कर किसानों ने हाइवे पर तीसरा धरना स्थल घोषित किया।

कुरुक्षेत्र। बाबैन में किसान एंबुलेंस को निकालते हुए। किसानों ने आपातकाल की सेवाओं को रास्ता देने का फैसला लिया है। सेना और पुलिस की गाड़ियों को भी जाने दिया जा रहा है।

जींद। नरवाना में किसान दिल्ली फिरोजपुर रेलवे लाइन पर बैठे।

भारत बंद से जुड़ी ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Edited By: Anurag Shukla