जींद, जेएनएन। कोरोना की दूसरी लहर जिले में खतरनाक मोड़ पर पहुंच गई है। अगर समय रहते लोग संभले नहीं तो स्थित ओर बिगड़ सकती है। वीरवार को दो महिलाओं सहित चार कोरोना संक्रमितों की उपचार के दौरान मौत हो गई। अप्रैल माह के 15 दिनों में 14 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है।

कोरोना से मरने वाले लोगों में अधिकतर 55 वर्ष से ज्यादा के उम्र के लोग हैं और वह किसी ने किसी बीमारी से पहले पीडि़त थे। जबकि 193 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। इनमें चार चिकित्सक, एक छात्र, दो कॉलेज स्टाफ व अर्बन एस्टेट के एक परिवार के चार सदस्य शामिल हैं। इसके साथ ही जिले में पॉजिटिव का आंकड़ा 7456 पहुंच गया है। अबतक जिला में 106 लोगों की मौत हो चुकी है। 6252 लोग पॉजिटिव से नेगेटिव हो चुके हैं। फिलहाल जिले में 1102 एक्टिव केस है।

वीरवार को 153 लोग रिकवर हुए है। जबकि 60 लोग आइसोलेशन वार्ड में दाखिल हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार वीरवार को खानपुर पीजीआई में उपचाराधीन गांव गढ़वाली खेड़ा निवासी 58 वर्षीय की मौत हो गई। महिला को 12 अप्रैल को पॉजिटिव आई थी, उसे सांस लेने में दिक्कत थी। उधर, गांव शादीपुरा निवासी 60 वर्षीय की तबीयत खराब होने के चलते पीजीआई खानपुर ले जाया गया था। जहां पर बुधवार को उसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी और बुधवार रात को उसकी मौत हो गई। वहीं, रामबीर कालोनी निवासी 60 वर्षीय तीन दिन पॉजिटिव आए थे। सांस लेने में दिक्कत के चलते नागरिक अस्पताल में लाया गया। जहां पर वीरवार को उनकी मौत हो गई। वहीं, गांव भगवानपुरा निवासी 59 वर्षीय 11 अप्रैल को पॉजिटिव आया था। स्वजनों ने उसे हिसार के निजी अस्पताल में दाखिल करवाया था। जहां पर उपचार के दौरान मौत हो गई।

1170 लोगों को लगाई वैक्सीन

जिले में वीरवार को वैक्सीनेशन अभियान चलाया गया। इसमें 1170 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। इसमें 983 लोगों को पहली डोज व 87 लोगों को दूसरी डोज लगाई गई। 45 से 59 वर्ष आयु वर्ग के 468 लोगों ने पहली डोज, 21 लोगों ने दूसरी डोज लगवाई। जबकि 60 वर्ष से ऊपर के उम्र के 500 लोगों ने पहली डोज, जबकि 87 लोगों ने दूसरी डोज लगवाई है। जिले में अब तक 83 हजार 637 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप