पानीपत, जेएनएन। हाईटेक एग्रो इंडस्ट्री कंपनी मालिक से मिलीभगत कर कृषि विभाग के अधिकारियों ने छोटे कृषि यंत्रों पर बड़े यंत्र की प्लेट लगाकर 13.50 लाख रुपये का घोटाला कर डाला। विजिलेंस पुलिस ने कंपनी मालिक और दो अधिकारियों समेत 23 के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

करनाल विजिलेंस एसपी श्याम लाल शर्मा ने बताया कि वर्ष 2017-18 से जाटल रोड स्थित हाईटेक एग्रो इंडस्ट्री कंपनी पावर वीडर बना रही है। कंपनी ने पांच एचपी और सात एचपी के पावर वीडर पर 9.5 एचपी की प्लेट लगाकर 27 किसानों को 13.50 लाख रुपये की सब्सिडी दिला दी। इनमें से 15 किसानों की सब्सिडी अधिकारियों ने आपस में बांट ली। कंपनी मालिक शमीम अहमद, सहायक कृषि अभियंता विनीत कुमार, कनिष्ठ अभियंता विश्वपाल सहित 23 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

ये भी पढ़ें: Video Viral: महिला ने जींद के युवक को इंडोनेशिया बुला बनाया बंधक, दे रही यातनाएं

मुकदमे में इन 20 किसानों के नाम है शामिल
कृष्ण निवासी भापरा, अशोक कुमार निवासी सिठाना, ऋषि, भजन, जयकिशन, राकेश सैनी, नरेश कुमार, अनवर, मीनू, मुकेश निवासी पानीपत, मूर्ति निवासी भापरा, राजबाला निवासी काबड़ी, रीना निवासी बिहौली, सरोजबाला निवासी शेरा, गंगा सैनी निवासी कचरौली, ओमकौर निवासी बुआना लाखु, एमुर्तजा निवासी अधमी, सुरजीत निवासी इसराना, शांति देवी निवासी सिवाह, प्रेम निवासी उग्राखेड़ी सहित कुल 20 किसानों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

ये भी पढ़ें: दिनदहाड़े करनाल में हत्या, पहले पूछा हालचाल फिर मार दी गोली

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप