जागरण संवाददाता, समालखा : कोरोना की आशंकित तीसरी लहर को देखते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने आम जन के बचाव के लिए तैयारी शुरू कर दी है। संघ द्वारा देशभर के ढाई लाख गांवों में आरोग्य मित्र तैयार किए जाएंगे। इसके लिए संघ द्वारा कार्यकर्ताओं को विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने शनिवार को पट्टीकल्याणा स्थित सेवा साधना केंद्र में प्रांत स्तरीय आरोग्य मित्र प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया।

कार्यशाला की अध्यक्षता प्रांत संघ चालक पवन जिदल ने की। कार्यशाला में रोहतक पीजीआइ के कोविड नोडल अधिकारी डा. सुरेश कुमार सिघल, डा. योगेंद्र मालिक खानपुर मेडिकल कालेज द्वारा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया। पवन जिदल ने कहा कि संकट के इस दौर में हमें कोरोना नियमों की पालना करते हुए एक-दूसरे की मदद करनी चाहिए।

उन्होंने बताया कि चित्रकूट में आयोजित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय बैठक में सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले के आह्वान पर देशभर में ढाई लाख गांवों में आरोग्य मित्र प्रशिक्षित करने के अभियान के अंतर्गत हरियाणा में यह कार्यशाला रखी गई। इसमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, हरियाणा ने अपने जिला व प्रांत स्तर के कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया।

कार्यशाला में डा. सिघल ने कोरोना पीड़ित होने पर आरोग्य मित्र किस प्रकार से पीड़ित का प्राथमिक उपचार कर सकता है, जिसमें आक्सीमीटर, कंसंट्रेटर व आक्सीजन सिलेंडर का उपयोग कैसे करना है का प्रत्यक्ष प्रशिक्षण दिया गया। साथ ही पीपीइ किट कैसे पहनना और कैसे उसको डिस्पोज करना यह प्रत्यक्ष सिखाया गया।

Edited By: Jagran