पानीपत/कैथल, जेएनएन। चंडीगढ़ पुलिस, हरियाणा पुलिस, हरियाणा ग्रुप डी, हाईकोर्ट चंडीगढ़ में क्लर्क की नौकरी लगाने के नाम पर भाई-बहन ने चार अन्य आरोपितों के साथ मिलकर 18 लोगों से 51 लाख रुपये हड़प लिए। इसमें एक पीडि़त बडसिकरी गांव के सत्यवान की शिकायत पर पुलिस ने हिसार के हसनगढ़ निवासी राजा उर्फ राजकुमार, पंजाब के संगरूर शहर मुणक के तहत गांव सलीमगढ़ निवासी राजबाला, इसी गांव के कुलबीर सिंह, रोहतक के महम निवासी मुकेश कुमार, कैथल जिला के गांव सौंगल निवासी रोहताश, प्यौदा गांव निवासी प्रवीण कुमार व हिसार के गांव हसनगढ़ निवासी रमन कुमार के खिलाफ केस दर्ज कर उनके खिलाफ जांच कर रही है।

वर्ष 2017 से लेकर वर्ष सितंबर 2019 तक आरोपित नौकरी लगाने के नाम पर बडसिकरी गांव के सत्यवान सहित बाकी पीडि़तों से पैसा हड़पते रहे। जब पीडि़त को आरोपितों की सच्चाई का पता चला तो उसने पैसे वापस मांगे, लेकिन आरोपितों ने पैसा वापस करने की बजाए जान से मारने की धमकी दी। मामले के जांच अधिकारी पुलिस के आर्थिक शाखा के बीरभान ने बताया कि पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर जांच की जा रही है। 

शिकायतकर्ता ने ये लगाए आरोप 

बडसिकरी गांव के सत्यवान ने बताया कि आरोपित राजा उर्फ राजकुमार उसकी मां नन्ही देवी की चचेरी बहन का लड़का है। वर्ष 2014 के चुनाव के दौरान आरोपित उसके घर आया। आरोपित राजा ने वर्ष 2017 में उसे फोन किया कि उसका छोटा भाई जगमेश क्या काम करता है, तो उसने बताया कि वह बेरोजगार है।  इसके  बाद आरोपित ने उससे कहा कि किसी भर्ती के लिए कोई टेस्ट क्लीयर किया है तो उसने बताया कि चंडीगढ़ पुलिस में फिजिक्ल टेस्ट पास किया हुआ है। इसके बाद आरोपित राजा ने उससे कहा कि वह उसके भाई जगमेश को चंडीगढ़ पुलिस में नौकरी लगवा देगा। आरोपित ने बताया कि उसकी छोटी बहन राजबाला चंडीगढ़ गर्वनर हाउस में पीए के पद पर कार्यरत है। वे अपनी बहन को बोलकर यह काम करवा देगा।

12 लाख रुपये में लगने की बात कही

शिकायतकर्ता ने बताया कि आरोपित ने नौकरी लगाने के लिए 12 लाख रुपये लगने की बात कही। आरोपित ने कहा कि पंजाब के गवर्नर वीपी सिंह बदनोर ने 12 लाख रुपये की मांग की है। इसमें से 6 लाख रुपये पहले व 6 लाख रुपये लिस्ट लगाने के पश्चात देने होंगे। वह आरोपित की बातों में आ गयाा। उसने परिवार के लोगों से बातचीत करते हुए आरोपित को घर बुलाकर 6 लाख रुपये की राशि दे दी। आरोपित ने उसके भाई का फिजिकल टेस्ट के रोल नंबर भी ले लिया। इसके बाद वे आरोपित के साथ राजबाला के पास पहुंचे जहां आरोपित महिला के पति कुलबीर को 6 लाख रुपये दे दिए। आरोपित ने कहा कि गर्वनर हाउस में यह राशि देनी है। 

Posted By: Anurag Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप