जागरण संवाददाता, अंबाला शहर। शहर सदर थाना में पक्षों में जमकर लात-घुसे चले। बीच-बचाव करने आए थाना के कर्मचारियों की वर्दी फाड़ दी तथा धक्के मारकर जान से मारने की धमकी दे डाली। इस धक्का-मुक्की के दौरान कर्मचारियों को कई जगहों पर चोटें भी आई हैं। उनका मेडिकल करवाया गया है।

हालांकि घटनाक्रम शहर सदर थाना के अंदर हुआ है। मगर रकबा शहर कोतवाली थाना लगने के चलते कोतवाली में आरोपित विक्की जैन, खुश उप्पल, सुमित कुमार, रिंकू चावला, सुभाष जैन व मनु उप्पल के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने, मारपीट व जान से मारने जैसी अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया। पुलिस ने सभी आरोपितों को कोर्ट में पेश कर एक दिन की ज्यूडीशियल भेज दिया गया।

इस तरह से हुआ विवाद

यह मामला सदर थाना के कर्मी अरुण कुमार की शिकायत पर दर्ज किया गया। इसमें उसने बताया कि शहर के नरेश विहार निवासी विक्की जैन व लुधियाना की सिविल सिटी नजदीक हैबाेवाल कलां निवासी दिनेश जैन तथा दूसरे पक्ष की ओर से प्रेम नगर निवासी खुश उप्पल, करनाल निवासी सुमित कुमार, सेक्टर-7 निवासी रिंकू चावला, नरेश विहार निवासी सुभाष जैन, महिला मनु उप्पल थानार में बातचीत कर रहे थे। इसी दौरान गुस्से में आकर मनु उप्पल ने दिनेश जैन के मुंह पर जोर से थप्पड़ मार दिया। उसी समय दिनेश जैन व उसके लड़के पर बुरी तरह टूट पड़े और लातों व मुक्कों से मारने लगे।

एएसआइ की वर्दी फाड़ी, जान से मारने की धमकी दी

पुलिसकर्मी अरुण कुमार, एएसआइ चांदी राम, एएसआइ महेश कुमार, हेड कांस्टेबल अजीत पाल व सतीश कुमार ने बीच बचाव कराने लगे। आरोपित उनके साथ भी धक्का-मुक्की करने लगे। एएसआइ चांदी राम की वर्दी फाड़ दी व जान से मारने की धमकी देने लगे। इतना ही नहीं इस दौरान कर्मचारियों को चोटें भी लगी है।

लेन-देन को लेकर मामला

सूत्रों के अनुसार, दोनों पक्षों का आपसी शेयर मार्केट को लेकर लेन-देन का मामला चल रहा है। बाद में मामला सदर थाना पहुंच गया था। ऐसे में दोनों पक्षाें को बातचीत के लिए बुलाया गया था। उस दौरान किसी बात को लेकर दूसरे पक्ष की महिला तैश में आ गई और दूसरे पक्ष के व्यक्ति को थप्पड़ जड़ दिया। इसपर दूसरे साथी भी उन लोगों पर टूट पड़े। इसके बाद मामला पूरी तरह से हाथापाई तक पहुंच गया। हालांकि इस दौरान पुलिसकर्मी भी थे। मगर जब काफी शोर शराबा हुआ तो दूसरे पुलिसकर्मी भी आवाज सुनकर वहां पहुंचे और बीच-बचाव शुरू किया।

क्या कहती है पुलिस

सिटी थाना के एसएचओ राम कुमार ने कहा कि घटना सदर थाना में हुई है। मामले में शिकायत मिलने पर दोनों पक्षों के खिलाफ केस दर्ज करने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपितों को एक दिन की ज्यूडीश्यिल भेजा गया है।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Edited By: Umesh Kdhyani