पानीपत/ करनाल - जेएनएन - करनाल के गांव कुचपुरा के पास खेतों में बने गोदाम से बदमाशों ने धान लूटने की वारदात को अंजाम दिया। खेतों के पीछे पहरेदारी कर रहे गार्ड को बंधक बनाने के बाद 200 से ज्यादा धान की बोरियां को खाली करके ट्रैक्टर-ट्राली  में लोड किया गया। इसके बाद बदमाश फरार हो गए। बदमाशों ने बंधक बनाए गए गार्ड की रिवाल्वर व मोबाइल फोन भी छीन लिया। वारदात का पता चलते ही  पुलिस मौके पर पहुंची। एफएसएल की टीम ने भी मौके पर पहुंचकर साक्ष्य जुटाए।

कुचपुरा गांव के पास पूर्व विधायक सुमिता सिंह का गोदाम किराये पर दिया हुआ है। इस गोदाम के पीछे पांच एकड़ जमीन किसी व्यापारी ने राइस मिल  लगाने के लिए खरीदी थी, लेकिन बैंक डिफाल्टर होने के बाद इस जमीन को बैंक ने अपने कब्जे में ले लिया। इस जमीन की रखवाली के लिए बैंक ने गार्ड तैनात किया हुआ है। 

गार्ड को बनाया था बंधक। 

कार में बैठा था गार्ड

शनिवार की रात को खेत के किनारे गार्ड अपनी कार में बैठा था। उसी समय करीब 10 बदमाशों ने उस पर हमला कर दिया और उसे बंधक बनाकर पास ही खेत में फेंक दिया। बदमाशों ने उसका मोबाइल फोन व 32 बोर की रिवाल्वर भी छीन ली। इसके बाद बदमाशों ने गोदाम के रोशनदान की जाली को उखाड़ दिया। फिर ट्रैक्टर-ट्राली को रोशनदान के ठीक नीचे खड़ा कर दिया।

ट्राली में लोड किया धान

बदमाशों ने अंदर जाकर 1121 से भरी 200 से ज्यादा बोरियों को खाली करके  धान को ट्राली में लोड किया। इस पूरी से गोदाम के मुख्य गेट पर तैनात दो गार्ड अनजान बने रहे। बंधक बनाए गए गार्ड ने जस तस करके खुद को मुक्त करवाकर इस घटना की जानकारी दी। पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

Edited By: Ravi Dhawan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट