जागरण संवाददाता, समालखा : समालखा की गांधी कालोनी में प्रॉपर्टी डीलर ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। जहर खाने से पहले प्रॉपर्टी डीलर ने चार पेज का सुसाइड नोट लिखा। नोट में उसने अपने साथी पर उधार लिए 60 हजार रुपये लौटाने से इन्कार करने और उसके साथ मारपीट करने का आरोप लगाया है। मृतक के बेटे की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

समालखा की गांधी कालोनी के अंकित ने बताया वह इंजीनियर है और दिल्ली स्थित एक कंपनी में काम करता है। उसके पिता 55 वर्षीय सुरेश त्यागी प्रॉपर्टी डीलर थे। वह जौरासी रोड स्थित कार्यालय में आट्टा गांव के प्रॉपर्टी डीलर रामकरण के साथ काम करते थे। करीब छह महीने पहले उनके पिता ने बुआ ईश्वरी से 30 हजार रुपये लाकर रामकरण को दिए थे।

इसके दो महीने पहले 30 हजार रुपये और दिए थे। अब उनके पिता ने रामकरण से रुपये वापस मांगे तो उसने देने से इन्कार कर दिया। आरोप है कि रामकरण ने आट्टा गांव से युवकों को बुलाकर उसके साथ मारपीट की। जिस कारण उसके पिता ने मंगलवार शाम को जहरीला पदार्थ खा लिया। परिजनों ने उन्हें समालखा अस्पताल में भर्ती कराया, जहां पर देर रात उनकी मौत हो गई।

सुसाइड नोट में परिवार वालों को तंग नहीं करने बारे लिखा

सुरेश ने अपने सुसाइड नोट में बार-बार परिवार वालों को तंग नहीं करने की बात लिखी है। बहन से दो बार में 30-30 हजार रुपये लाकर डीलर को देने का उल्लेख किया है। साथी पर बेइज्जती करने के साथ गांव के किसी युवक को बुलाकर गाली गलौज और हाथापाई करने का आरोप लगाया है। उसके हस्ताक्षर युक्त चेक नहीं लौटाने की बात कही है।

---------------

चौकी प्रभारी हरिराम ने बताया कि मंगलवार को सुरेश के जहर खाने की सूचना मिली थी। वह बयान देने की स्थिति में नहीं था। उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। सुबह में उसके बेटे ने सुसाइड नोट के साथ शिकायत दी। सुसाइड नोट में लेनदेन का मामला बताया है। मामले की तफ्तीश की जा रही है। डीलर रामकरण व एक अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021