जागरण संवाददाता, पानीपत: तीन नकाबपोश बदमाशों ने संजय चौक के पास स्थित सिडिकेट बैंक के एटीएम से गार्ड को बंधक बनाकर 6 लाख 30 हजार 800 रुपये लूटे थे। इस राशि की जानकारी बैंक के वरिष्ठ शाखा प्रबंधक किशनलाल ने थाना शहर पुलिस को दी। वारदात के दो दिन बाद भी सीआइए की तीन और थाना शहर की एक टीम बदमाशों को नहीं पकड़ पाई है। पुलिस की टीमें बदमाशों की तस्वीर लेकर उत्तर प्रदेश के बागपत, मुजफ्फरनगर, कैराना, हरियाणा के गुरुग्राम, दिल्ली, रोहतक और सोनीपत में खाक छान रही हैं। पानीपत की तरह बदमाशों ने एटीएम लूट की वारदात बागपत और मुजफ्फरनगर में भी की थी। पुलिस भी एटीएम लूट गिरोह उत्तर प्रदेश का मानकर जांच कर रही है। पुलिस के निशाने पर उत्तर प्रदेश और हरियाणा के 12 गैंग निशाने पर हैं, जो एटीएम की लूट की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं।

बता दें कि शनिवार रात को दो नकाबपोश बदमाशों ने सिडिकेट बैंक के एटीएम केबिन में पिस्तौल के बल पर गार्ड अंकित को बंधक बनाकर एटीएम से 6.30 लाख रुपये लूट लिए थे। बदमाश अपने तीसरे साथी के साथ क्रेटा गाड़ी में बैठ कर फरार हो गए थे। थाना शहर पुलिस ने मामला दर्ज किया।

एटीएम तोड़ने में एक्सपर्ट हैं बदमाश

थाना शहर प्रभारी जितेंद्र कुमार ने बताया कि बदमाश एटीएम तोड़ने में एक्सपर्ट है। इन बदमाशों को एटीएम के बारे में पूरी जानकारी थी कि कहां रुपये रखे जाते हैं और कैसे इसे आसानी से तोड़ा जा सकता है। इस बारे में बैंक के स्टाफ गार्ड, उनके दोस्तों के साथ-साथ उन लोगों से भी पूछताछ की जाएगी जो एटीएम में कैश लोड करते हैं। बैंक के सीसीटीवी कैमरों की 15 दिन की फुटेज से भी पता लगाया जा रहा है कि कौन-कौन संदिग्ध लोग बैंक में आए थे।

एटीएम केबिन पर लगा ताला

वारदात के बाद से एटीएम पूरी तरह से बर्बाद हो चुका है। बैंक ने एटीएम केबिन पर ताला लगा दिया है। वरिष्ठ शाखा प्रबंधक किशन लाल ने बताया कि नया एटीएम रखवाने में कम से कम 15 दिन का समय लगेगा। तब तक एटीएम केबिन बंद रहेगा। बैंक के सभी सीसीटीवी कैमरे काम कर रहे हैं। दिन में बंदूक वाले गार्ड, रात को निहत्थे

सिडिकेट बैंक में दिन में सुरक्षा के लिए बंदूक वाला गार्ड तैनात हैं। सोमवार को बैंक खुला तो गार्ड हर आने-जाने वाले व्यक्ति पर पैनी नजर रखे हुए था। जबकि रात को बैंक के एटीएम की सुरक्षा की जिम्मेदारी गार्ड अंकित और वाजिद पर हैं। दोनों ही गार्ड निहत्थे ड्यूटी देते हैं। वारदात के बाद से गार्ड डरे हुए हैं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran