पानीपत/कुरुक्षेत्र, [विनीश गौड़]। लॉकडाउन में ठेके के बाहर शराबियों को लंबी कतार लगाकर लालपरी के लिए जद्दोजहद करते हुए आपने मीडिया और सोशल मीडिया में पिछले दिनों खूब देखा होगा। ऐसी वीडियो और फोटो को लोगों ने खूब शेयर किया और कोरोना के फैलने में इसे खतरा भी बताया, लेकिन कुछ लोग फिर भी मानने को तैयार नहीं है। मगर सोमवार देर रात शराब की ही तलब ने एक कोरोना पॉजिटिव मरीज को मुसीबत में डाल दिया। कोरोना संक्रमित एक मरीज ने कोरोना केयर सेंटर में अपने परिजन के हाथ सामान के साथ ही शराब भी मंगा ली। शराब की एक घूंट पीने के लिए इस मरीज ने खूब बवाल भी काटा, लेकिन जब पुलिस आई तो उसे लिखित में माफीनामा लिखना पड़ा गया। 

देर रात को शराब के लिए खूब काटा बवाल 

हिरमी में कोविड केयर सेंटर बनाया गया है, जहां पर इस समय 35 कोरोना पॉजिटिव मरीजों को रखा गया है। इन मरीजों में से एक ने सोमवार देर रात को अपने परिजन के हाथ सामान के साथ-साथ शराब भी मंगा ली। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जब सामान की जांच करने का प्रयास किया तो कोरोना पॉजिटिव मरीज इस बात पर उखड़ गया। शराब की बोतल को इस तरह से सामान में छिपाया गया था ताकि वह स्टाफ की जांच में पकड़ी न जाए। मगर जांच के दौरान स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सामान में जांच में शराब को पकड़ लिया और शराब के सेवन को वर्जित बताया। इस बात पर कोरोना संक्रमित मरीज ने बवाल कर दिया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इसकी सूचना पुलिस को दी और मौके पर कोविड केयर सेंटर के दूसरे अधिकारी पहुंचे। जब उस पर कार्रवाई करने की चेतावनी दी गई तो उसने लिखित में माफी मांगकर पीछा छुड़ाना पड़ा।  

कार्रवाई करने की चेतावनी दी तो लिखित में मांगी माफी : चौकी प्रभारी 

थर्ड गेट चौकी प्रभारी धर्मबीर ने बताया कि सूचना मिली थी कि एक कोरोना मरीज ने कोरोना केयर सेंटर में शराब मंगा ली है, जिसके बाद वह वहां पहुंचे और स्पष्ट शब्दों में कार्रवाई करने की चेतावनी दी गई। उसे बताया गया कि वे कोविड केयर सेंटर में हैं और उन्हें यहां नियमों से रहना होगा। अगर दोबारा किसी ने ऐसी हरकत की तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है। मरीज ने लिखित में माफी मांगी है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस