समालखा(पानीपत), जागरण संवाददाता। पानीपत के समालखा में दुकानदार पर गोली चला लूटपाट के मामले में आरोपितों को अवैध देसी पिस्तौल उपलब्ध करवाने के आरोपित को जिला पुलिस की सीआइए थ्री टीम प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई है। आरोपित रुपेंद्र उर्फ नन्हा निवासी गांव बरोना जिला सोनीपत दिल्ली में हत्या की एक वारदात में तिहाड़ जेल में बंद था।

जांच अधिकारी के अनुसार

सीआइए-थ्री प्रभारी इंस्पेक्टर अंकित ने बताया कि 16 सितंबर 2021 को देर शाम समालखा में चुलकाना रोड पर किरयाणा दुकान संचालक विनोद सिंगला व फ्रूट दुकान संचालक नीशु उर्फ बिल्लू पर अज्ञात बदमाश ने पिस्तौल से गोली चला लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस ने वारदात के महज तीसरे दिन ही आठ आरोपितों को वारदात में प्रयोग किए चार अवैध देसी पिस्तौल सहित गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस रिमांड के दौरान पूछताछ में रोहित उर्फ जाटराम ने वारदात में प्रयोग एक अवैध देसी पिस्तौल अपने दोस्त रोहित उर्फ बच्ची निवासी झट्टीपुर समालखा व दो अवैध देसी पिस्तौल रूपेंद्र उर्फ नन्हा पुत्र कृष्ण निवासी बरोना सोनीपत से लेकर आने की बात कबूल की थी।

प्रोडक्शन वारंट पर ला रिमांड पर लिया

इंस्पेक्टर अंकित ने बताया कि आरोपित रोहित उर्फ बच्ची को गत दिनों पानीपत जेल से प्रोडक्शन वारंट पर ला एक दिन के रिमांड पर ले पूछताछ के बाद न्यायिक हिरासत भेज दिया गया था। उसके अवैध देसी पिस्तौल मुहैया कराने वाले आरोपित रूपेंद्र की तलाश की जा रही थी। उन्हें गत दिनों सूचना मिली की रूपेंद्र को बीते दिनों हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। जो दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है। इंस्पेक्टर ने बताया कि शुक्रवार को आरोपित रूपेंद्र को तिहाड़ जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पूछताछ की। आरोपित ने रोहित उर्फ जाटराम को दो अवैध देशी पिस्तौल देने की बात कबूल की। जिसे अदालत पेश करने के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

Edited By: Naveen Dalal