पानीपत, जागरण संवाददाता।  पानीपत में किराना कारोबारी ने आत्‍महत्‍या कर ली है। सोनीपत के खुबडू झाल के पास उनका शव मिला है। 20 जनवरी को किराना कारोबारी लापता हो गए थे। नहर किनारे कपड़े और सुसाइड नोट मिला था। सुसाइड नोट में आठ युवकों का नाम लिखा है। सोनीपत पुलिस ने पानीपत पुलिस को सूचना दे दी। सूचना मिलने पर परिवार के लोगों में हाहाकार मच गया। 

तहसील कैंप के दुष्यंत नगर से किराना स्टोर मालिक संदिग्ध हालात में लापता हुए थे। स्वजनों ने नहर किनारे से दुकानदार के कपड़े और उसमें एक सुसाइड नोट मिला था। सुुसाइड नोट में रुपयों के लेन-देन का जिक्र कर कई युवकों का नाम लिखकर दबाव बनाने का आरोप लगाया है। स्वजन नहर में दुकानदार की तलाश कर रहे थे

दुष्यंत नगर निवासी 50 वर्षीय नरेंद्र सिंह का तहसील कैंप में किराना स्टोर है। नरेंद्र के बेटे विक्रम सिंह ने पुलिस को शिकायत दी कि 20 जनवरी की सुबह छह बजे पिता नरेंद्र घर से निकले थे। सुबह आठ बजे दुकान पर आए ग्राहक ने सामान देने की आवाज लगाई। उन्होंने उठकर देखा तो दुकान बंद थी। उन्होंने पिता के फोन पर काल किया, लेकिन फोन बंद मिला। पिता की कई जगह तलाश की, लेकिन सुराग नहीं मिला।

तहसील कैंप स्थित गुरुद्वारे के सामने दुकान में गले कैमरे में की जांच की तो पता चला कि पिता जाते दिखे थे। 21 जनवरी को नहर किनारे पहुंचे स्वजन पहुंचे तो नरेंद्र की शाल और कपड़े मिले। कपड़ों से एक नोट मिला। जिसमें कुछ लोगों के नाम लिखे थे। जिसने उसका रुपयों का लेनदेन था। स्वजन पांच दिन से नहर में खुबडू तक तलाश कर चुके थे, लेकिन पता नहीं चल सका था। अब वीरवार को सोनीपत पुलिस को उनका शव मिला है।

Edited By: Anurag Shukla