पानीपत, जेएनएन। कोरोना संक्रमण से जिले में एक और मौत हो गई। मृतका सुभाष नगर की निवासी और 78 साल की थी। स्वस्थ होने पर 60 लोगों को डिस्चार्ज किया गया है। सिविल सर्जन ने बताया कि वृद्धा उच्च रक्तचाप सहित कई रोगों से पीड़ित थी। 28 सितंबर को स्वजनों ने उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती कराया था। सांस लेने में तकलीफ होने पर उनका स्वाब सैंपल लिया गया। पांच अक्टूबर को रिपोर्ट पाजिटिव आई। छह अक्टूबर को मरीज की मौत हो गई। बुधवार को मिले संक्रमितों में एल्डिको वासी दंपती, सेक्टर-25 वासी मां-बेटा शामिल हैं। जिले में कुल पाजिटिव 7602 में से 7020 स्वस्थ हो चुके हैं। 418 एक्टिव, 60 मरीज लापता हैं। अब तक जिले में 94 मौत हाे चुकी हैं।

संक्रमण रोकने के लिए बनाए नियम मानने होंगे डायरेक्टर हेल्थ ने जारी किए आदेश 

संक्रमित, होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों को अब सामाजिक भेदभाव से डरने की जरूरत नहीं है। निदेशक स्वास्थ्य सेवाएं(एकीकृत रोग निगरानी कार्यक्रम) हरियाणा सरकार ने मरीजों के घर के बाहर कोविड-19 स्टीकर चस्पा नहीं करने के आदेश दिए है। इतना ही नहीं पहले से चस्पा स्टीकरों को हटवाना होगा। सिविल सर्जन डा. संतलाल वर्मा ने बताया कि प्रदेश में लाॅकडाउन अब अनलाक हो चुका हैे। इसी के चलते सरकार ने स्टीकर हटाने का निर्णय लिया है।

इसके अलावा कोविड-19 के तहत जारी गाइडलाइन, दिशा-निर्देशों का पूरी तरह से पालन करना होगा। अस्पतालों सहित दूसरे संस्थानों में आइसोलेशन बेड की संख्या कम नहीं की जाएगी। वेंटीलेटर की संख्या पर्याप्त रखनी होगी। लोगों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य है। सार्वजनिक स्थान पर दाे गज की दूरी का पालन करना होगा। होम आइसोलेशन में रखे गए मरीजों को पहले की भांति नियम मानने होंगे।किसी से हाथ न मिलाएं। किसी आफिस में दरवाजे के हैंडल, कुर्सी-मेज या यात्री वाहनों में सीट आदि से हाथ टच होने पर हाथों को सैनिटाइज करना न भूलें। मास्क नहीं पहनने वालों के चालान करना जारी रहेगा। 

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप