जागरण संवाददाता, पानीपत: सेक्टर-6 के एक दुकानदार के खाते से 1.20 लाख रुपये निकाल लिए गए। ठग ने पीड़ित का न तो डेबिट कार्ड बदला और न ही पिन कोड पूछा। इसके बावजूद ठगी कर ली।

करियाना की दुकान चलाने वाले सेक्टर-6 के दुकानदार राजेंद्र पाल ने बताया कि उसकी लघु सचिवालय स्थित एसबीआइ में खाता है। 11 फरवरी को उसके मोबाइल फोन पर मैसेज आया कि रात 12:07 मिनट पर उसके खाते से चार बार 20-20 हजार रुपये निकाल लिए हैं। जबकि डेबिट कार्ड से एक दिन सीमा 40 हजार रुपये निकाले जाने की है। फिर उसके खाते से 80 हजार रुपये कैसे निकाले गए। 11 फरवरी को ही फिर उसके खाते से 30 और 10 हजार रुपये निकाले। जबकि उसने अपने खाते व पिन कोड के बारे में किसी को नहीं बताया था। 12 फरवरी को उसने बैंक जाकर खाता बंद कराया और मैनेजर को शिकायत दी। उसके खाते से पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर स्टेशन के एटीएम से रुपये निकाले गए हैं। मैनेजर ने कार्रवाई का आश्वासन दिया। उसके रुपये ठग ने बैंक अधिकारियों से मिलीभगत करके निकाले हैं।

सेक्टर 6-7 चौकी प्रभारी श्रीभगवान का कहना है कि मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

नहीं दें किसी को जानकारी

एलडीएम राकेश वर्मा ने बताया कि राजेंद्र पाल के डेबिट कार्ड की 40 हजार रुपये प्रतिदिन की लिमिट है, लेकिन इनके खाते से तीन गुना ज्यादा रुपये की ऑनलाइन शॉ¨पग की जा सकती है। ठगों ने भी ऐसा ही किया होगा। अगर किसी के पास कोई व्यक्ति मोबाइल फोन से कॉल करके आपके डेबिट कार्ड की जानकारी मांगती है तो उसे कुछ न बताएं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस