पानीपत/कैथल, जेएनएन। कैथल में सस्ता सोना दिलाने के नाम पर गिरोह सक्रिय है। सस्ता सोना का ऑफर के चक्कर में एक युवक ने 1 करोड़ 88 लाख रुपये गवां दिए। तीन आरोपितों ने 10 ग्राम सोने को साढ़े 23 हजार रुपये में दिलवाने का प्रलोभन दिया था। जब सोना नहीं मिला तो रुपये मांगे। आरोपितों ने उसे जान से मारने की धमकी दी। पुलिस ने तीन आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

ढूंढवा गांव निवासी रामफल ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि पिछले साल से बतौर किरायेदार गुलमोहर सिटी कैथल में परिवार सहित रह रहा है। एक जनवरी 2018 को अनिल कुमार जो कि मेरा पुराना जानकार था, उसे कैथल बस अड्डा चौक पर मिला। उसने उससे अंकल जी कहते हुए नमस्ते किए और चाय पिलाने की बात कही। इसके बाद कोई काम दिलाने के बारे में कहा। इसके बाद आरोपित उसके घर भी आ गया। 

सस्ते सोने का दिया प्रलोभन

चाय पीने के बाद आरोपित ने कहा कि वह सोने का काम करता है। बाजार से बहुत सस्ता सोना दिलवा देगा। खरीदना हो तो बताओ। आरोपित ने कहा कि कुछ युवक भी उसके साथ ये काम करते हैं। शिकायतकर्ता ने बताया कि वह आरोपित की बातों में आ गया और बोला की सहयोगियों से मिलवाओ पहले। 

जिक्रपुर में गिरोह के अन्य सदस्यों से मिलवाया

आरोपित कुछ दिन बाद उसे जिक्रपूर ले गया। जहां एक सर्विस स्टेशन पर बैठकर बातचीत हुई। आरोपितों ने उसे 23 हजार 500 रुपये में 10 ग्राम सोना दिलवाने की बात कही। कहा कि सोना 12 से 15 दिन में आ जाएगा। इसके बाद वह घर आ गया। उसने अपने दोस्तों व रिश्तेदारों से बातचीत की। 

एक करोड़ 88 लाख रुपये दे दिए

10 नवंबर 2018 को आरोपित अनिल का फोन आया कि वे कैथल आए हुए हैं अगर पैसे तैयार हैं तो बताओ। उसने जान-पहचान के आठ से बातचीत करते हुए सभी से पैसे एकत्रित कर लिए और इसके बाद 13 नवंबर को उसने आरोपितों को बुलाते हुए 1 करोड़ 88 लाख रुपये दे दिए। इस दौरान उसके साथ हरसौला निवासी सहदेव व तितरम निवासी बलविंद्र मौजूद थे। 

रुपये मांगने पहुंचे तो दी धमकी

आरोपितों ने उक्त रकम लेकर 26 से 26 तारीख को सोना पहुंच जाने की बात कही। जब पैसा नहीं आया तो वे 20 मार्च 2019 को आरोपित के घर हजवाना गए, लेकिन बोला की एक माह रुक जाओ, अभी सोना आना है। 28 अप्रैल को फिर गए तो आरोपित ने फिर से आश्वासन दिया कि 30 अप्रैल को आ जाएगा। जब तय समय अनुसार वे आरोपित के घर गए तो आरोपित ने सस्ता सोना दिलवाने की बजाए उसे धमकी देने लगा। बोले आज के बाद यहां नहीं आना, मुझे किसी का कोई पैसा नहीं देना।

इनके खिलाफ मामला दर्ज

इसके बाद मामले की शिकायत पुलिस को दी गई। पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद  हजवाना निवासी अनिल कुमार, सुदकैन निवासी विजय व रविश के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।  

Posted By: Anurag Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप