पानीपत (विज्ञप्ति) : देश आजाद हुआ तो कांग्रेस सत्तासीन हुई। आजादी का पूरा व सही इतिहास कांग्रेस ने छिपा लिया ।अब समय आ गया है कि देश आजादी के नायकों के बारे में जाने। 23 जनवरी को पूरे हरियाणा में नेताजी सुभाषचंद्र बोस जयंती मनाई जाएगी। पूरा हरियाणा जयहिद बोलेगा। ये शब्द भाजपा प्रदेश प्रेस पैनेलिस्ट कृष्ण ढुल ने जिला भाजपा अध्यक्ष डा. अर्चना गुप्ता के सेक्टर 11-12 स्थित कार्यालय में प्रेस वार्ता में कहे।

कृष्ण दुल ने कहा कि न जाने कितने आजादी के परवानों को काले पानी की सजा मिली। लौटकर नहीं आए। आजादी के परवानों को समुद्र में फेंक देते थे। वीर सावरकर को दो बार काले पानी की सजा हुई। ऐतिहासिक जेल को भी कांग्रेस स्मारक नहीं बना सकी। वहां लगी वीर सावरकर की पट्टी को भी हटा दिया था। फिर वाजपेयी सरकार ने आधी बची जेल को स्मारक बनवाया। वीर सावरकर की पट्टी लगाई। कांग्रेस नेता कहते थे कि विभाजन हमारी लाश पर होगा। उनकी गलत नीतियों की वजह से देश का विभाजन हुआ और उस त्रासदी में 10 लाख लोग मारे गए। इसकी जिम्मेदारी कांग्रेस की है।

नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने आजाद हिद फौज की स्थापना की। 85000 सैनिक थे। 30 दिसंबर 1943 को कई द्वीपों पर आजाद हिद फौज का झंडा फहराया था। 21 अक्टूबर, 1943 को स्वतंत्र भारत की सरकार का गठन किया था। ये सब कांग्रेस ने छिपाया। 23 जनवरी को 7800 जगहों पर 75, 75 लोग इकट्ठे होकर नेताजी को श्रद्धांजलि देंगे। आजाद हिद के सेनानियों व उनके स्वजनों का सम्मान किया जाएगा।

डा.अर्चना गुप्ता ने बताया कि पानीपत की सभी 178 पंचायतों में व पानीपत नगर निगम के 26 वार्डों, समालखा के 17 वार्डों में 23 जनवरी को नेताजी की जयंती मनाई जाएगी। प्रेस वार्ता में मीडिया प्रभारी ईश कुमार राणा, मेयर अवनीत कौर, जिला महामंत्री रविन्द्र भाटिया, युवा मोर्चा अध्यक्ष बलविदर आर्य, किसान मोर्चा अध्यक्ष महावीर दहिया, अनुसूचित मोर्चा अध्यक्ष मुकेश बाल्मीकि, अनिता चावला, मीडिया सह प्रभारी विशाल गोस्वामी, मंजू सैनी, रविदर पांचाल, सुरेंद्र खर्ब व विजय सहगल मौजूद रहे।

Edited By: Jagran