पानीपत, जेएनएन। फतेहपुरी चौक से बीती 9 दिसंबर को लापता हुए कर्मयोगी (समाचार विक्रेता) का शव रविवार को खरखौदा में दिल्ली-पैरलल नहर से बरामद किया गया। शव फूल चुका है। एक हाथ भी गायब है। सोनीपत पुलिस ने शव सामान्य अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया। सूचना को राज्य स्तरीय वाट्सएप ग्रुप में वायरल किया तो मृतक की शिनाख्त हुई। सोमवार को शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा। परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है।

वधावा राम कॉलोनी के रमेश कुमार ने तहसील कैंप चौकी पुलिस को बताया कि उसका बेटा मोहित धवन (21) समाचार पत्र विक्रेता है। वह 9 दिसंबर को सुबह साढ़े सात बजे किसी काम से फतेहपुरी चौक गया था। उसके बाद वह घर नहीं लौटा। पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर गुमशुदगी का केस दर्ज कर युवक की तलाश शुरू की। लेकिन छह दिन बीतने पर भी मोहित का कोई भेद नहीं लगा। रविवार दोपहर को सोनीपत पुलिस ने मृतक के भाई के वाट्सएप पर लावारिस हालत में मिले शव की फोटो भेजी थी। फोन आया स्वीच ऑफ, चुनाव में व्यस्त पुलिस परिजनों ने बताया कि मोहित का फोन बीते 9 दिसंबर को गायब होने के बाद से ही बंद आ रहा था। दूसरी ओर चुनाव में व्यस्त होने के कारण पुलिस भी मामले की ओर खास ध्यान नहीं दे रही थी। पुलिस ने अब तक मोहित की लोकेशन और कॉल डिटेल भी नहीं खंगाली थी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021