Move to Jagran APP

मिलिए इश्‍कबाज की लाडली राधिका से, डांस करते-करते बन गईं एक्‍टर

इश्कबाज पूरी कर घर लौटी राधिका के बेबाक बोल। कहा मेहनत और भाग्य पर यकीन रखने वालों को देर से सफलता मिलती है। मां ने पूरा साथ दिया।

By Ravi DhawanEdited By: Published: Thu, 21 Mar 2019 03:25 PM (IST)Updated: Fri, 22 Mar 2019 05:21 PM (IST)
मिलिए इश्‍कबाज की लाडली राधिका से, डांस करते-करते बन गईं एक्‍टर

पानीपत [राज सिंह]। स्टार प्लस के डेली सोप इश्कबाज में ऑबराय ब्रदर्स की लाडली बहन राधिका की मासूम अदायगी आपको जरूर याद होगी। आपको यह शायद पता नहीं होगा कि राधिका का असली नाम शैरेन है और वह पानीपत के न्यू सुखदेव नगर की निवासी है। सीरियल 15 मार्च को कम्पलीट हो चुका है और शैरेन घर लौट आई हैं।  दैनिक जागरण टीम ने मीटू और कास्टिंग काउच जैसे विषयों पर उनके घर जाकर कुछ सवाल किए तो उन्‍होंने स्पष्ट कहा कि इंडस्ट्री अच्छे-बुरे, दो तरह के लोगों की है। प्रस्तुत है बातचीत के कुछ अंश।

loksabha election banner

प्रश्न : ओद्यौगिक नगरी से रुपहले पर्दे तक कैसे पहुंची।
उत्तर : डांस का शौक था, मारवाह फिल्म सिटी से बीएससी सिनेमा का कोर्स किया।

प्रश्न : इश्कबाज में कैसे काम मिला।
उत्तर : अक्टूबर 2018 में गुलखान के प्रॉडक्शन हाउस को ऑडिशन दिया था, दिसंबर में बुलावा आया।

प्रश्न : एक्टिंग का शौक कब लगा।
उत्तर : डांस का शौक था, एक्टिंग का कीड़ा था। डांसर नहीं बनना चाहती थी इसलिए एक्टिंग को चुना।

प्रश्न : फ्रैशर को किस हद तक समझौता करना पड़ता है।
उत्तर : मी-टू और कास्टिंग काउच जैसे शब्द तो हर फील्ड में है।

प्रश्न : हमारा सवाल फिल्म और टीवी इंडस्ट्री को लेकर है।
उत्तर : मेहनत और भाग्य पर यकीन रखने वालों को देर से सफलता मिलती है।

प्रश्न : कभी आपके साथ कुछ ऐसा हुआ कि असहज महसूस किया हो।
उत्तर : दिल्ली ऑडिशन देने गई थी, मुझे माहौल ठीक नहीं लगा, तुरंत लौट आई।

प्रश्न : इश्कबाज के अलावा कहां एक्टिंग दिखाने का मौका मिला।
उत्तर : एक लघु फिल्म की है और इश्कजादे फिल्म में आवाज दी है।

प्रश्न : रूढीवादी परिवार आज भी इस लाइन को ठीक नहीं मानते। आपका क्‍या कहना है।
उत्तर : परिवार और ननिहाल पक्ष के कुछ लोगों ने विरोध किया था।

प्रश्न : विरोध के बावजूद सीरियल और फिल्म तक कैसे पहुंची।
उत्तर : मम्मी-पापा, भाई-बहन ने खूब साथ दिया, मम्मी हर माह खर्च भिजवाती थीं।

प्रश्न : मॉडलिंग क्षेत्र में जाने की प्लानिंग नहीं की।
उत्तर : दीपिका पादुकोण के साथ लक्स के एड की शूटिंग की है।

प्रश्न : भविष्य की क्या प्लानिंग है।
उत्तर : नए प्रोजेक्ट के लिए बुलावे का इंतजार है।

बेटी की खुशी में खुश हूं
शैरेन की मां नेहा खंडूजा शहर के एक स्कूल में टीचर हैं। पिता सचिन बिजनेस करते हैं। बड़ी बहन शिवानी एक टेक्सटाइल कंपनी में जॉब करती हैं, छोटा भाई निखिल होटल मैनेजमेंट का कोर्स कर रहे हैं। मां ने बताया कि बेटे और बेटियों में कोई फर्क नहीं माना। बेटी के करियर के लिए भी वही कुछ किया जो बेटे के लिए कर रहे हैं।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.