करनाल, जागरण संवाददाता। कौशल विकास एवं औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग की ओर से आइटीआइ में दाखिलों की तिथि को 30 दिसंबर तक बढ़ाया गया है। पांच काउंसलिंग के दौरान संस्थान स्तर पर दाखिले को लेकर खाली सीटों पर विद्यार्थियों का रुझान कम है। इसका कारण पसंद की अधिकतर ट्रेडों में सीटें फुल होना बताया जा रहा है, जिनकी कक्षाएं भी चालू हो चुकी है। कुंजपुरा रोड स्थित बाबू मूल चंद जैन औद्योगिक प्रशिक्षक संस्थान में सहायता डेस्क पर दिन में एक या दो बच्चे ही दाखिले की पूछताछ के लिए पहुंचते हैं।

पांच काउंसलिंग के बाद अब तक चल रहे दाखिले

करनाल राजकीय आइटीआइ में 33 ट्रेड की 61 यूनिटों में 1315 बच्चों का दाखिला लिया जाना था। पांच काउंसलिंग के बाद 80 फीसद सीटों को ही भरा जा सका। यही हालत प्रदेश भर के प्रशिक्षण संस्थानों में होने के कारण मुख्यालय की ओर से 30 दिसंबर तक दाखिले के लिए आवेदन की तिथि बढ़ा दी और संस्थान स्तर पर आन द स्पाट दाखिला दिया जा रहा है। प्राचार्य धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि जो विद्यार्थी आइटीआइ में दाखिला लेने के लिए आएंगे उन्हें अपने मेरिट कार्ड आइटीआइ में जमा कराने होंगे। मेरिट लिस्ट मौके पर ही तैयार की जाएगी। ज्यादा अंकों वाले को ही दाखिले में प्राथमिकता दी जाएगी। 30 दिसंबर तक रोजाना दाखिले के लिए यही प्रक्रिया अपनाई जाएगी।

दूसरे राज्यों के विद्यार्थियों को भी दिया जा रहा मौका

सहायता डेस्क पर कर्मचारियों के अनुसार तीन काउंसलिंग तक प्रदेश के आवेदकों को दाखिला दिया जा रहा था, लेकिन चौथी काउंसलिंग में दूसरे राज्यों में पढ़ाई कर चुके हरियाणा में रहने वाले छात्रों को भी दाखिला दिया जा रहा है। आइटीआइ में दाखिला लेने के लिए छात्रों को 10वीं कक्षा का प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, रिहायशी प्रमाण-पत्र, बैंक खाता संख्या व पासबुक की कापी, रंगीन फोटो, आधार कार्ड व परिवार पहचान-पत्र साथ लाने होंगे।

Edited By: Anurag Shukla