यमुनानगर, जागरण संवाददाता। इस समय सूने घर चोरों के निशाने पर हैं। जैसे ही कोई घर या दुकान को खाली छोड़कर गया। चोर हाथ साफ कर जाते हैं। तीन जगहों पर ऐसी वारदात हुई। जिसमें लाखों रुपये की नकदी व जेवरात चोरी कर लिए गए। फिलहाल पुलिस ने मौका मुआयना कर केस दर्ज कर लिया है।

फ्रेंडस कालोनी निवासी भूपेंद्र सिंह रेलवे वर्कशाप में बतौर टेक्नीशियन कार्य करते हैं। पिता की काफी पहले मौत हाे चुकी है। घर पर वह और उनकी मां रहते हैं। 25 जनवरी को वह अपनी मां के साथ शिमला गया था। वहां से वापस लौटा, तो मकान का ताला टूटा हुआ था। अंदर का सारा सामान बिखरा हुआ था। अलमारी के ताले टूटे हुए थे। अलमारी से साढ़े चार लाख रुपये व जेवरात गायब थे।

सूचना पर गांधीनगर थाना पुलिस ने मौका मुआयना किया। जांच अधिकारी एएसआइ रिषिपाल ने बताया कि मामले में केस दर्ज कर लिया गया है। उधर, शिव नगर कालोनी निवासी संजय कुमार ने बताया कि उनकी पत्नी छत पर कपड़े फैलाने गई थी। जब वह कपड़े फैलाकर वापस आई, तो कमरे की अलमारी खुली पड़ी थी। जिसमें से जेवरात व पांच हजार रुपये की नकदी गायब थी। गांधीनगर थाना पुलिस ने मौका मुआयना कर केस दर्ज किया।

चार दुकानों के ताले तोड़े

खालसा कालेज रोड पर चोरों ने चार दुकानों को निशाना बनाया। यहां पर बुक डिपो, फोटोस्टेट व फोटो स्टूडियो की दुकानों के ताले तोड़कर नकदी व सामान चोरी कर लिया गया। संजय कुमार ने बताया कि उनकी संजय बुक डिपो के नाम से दुकान है। शाम को वह दुकान बंद कर घर चले गए थे। सुबह जब यहां दुकान पर पहुंचे, तो ताले टूटे हुए थे। अंदर से सीसीटीवी कैमरे की डीवीआर व गल्ले से डेढ़ लाख रुपये की नकदी गायब थी। इसी तरह से बराबर की विशाल फोटोस्टेट, ओबराय व ओमकार फोटो स्टूडियो के भी ताले तोड़ दिए। यहां से तार चोरी कर लिए गए। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर मौका मुआयना किया। मामले में केस दर्ज कर लिया गया।

Edited By: Anurag Shukla