जागरण संवाददाता, पानीपत :

किशनपुरा में युवक इखलाक का हाथ कटने की घटना में अब दूसरा पक्ष भी सामने आया है। डीएसपी सतीश वत्स जांच करने के लिए कालोनी में पहुंचे। यहां उन्हें बताया गया कि उसका हाथ काटा नहीं गया, बल्कि ट्रेन से कटा था। वह सात वर्ष के बच्चे के साथ कुकर्म कर रहा था। स्वजनों ने उसे देख लिया। उसकी पिटाई कर दी। इसी दौरान वो वहां से फरार हो गया। रात को ट्रेन से उसका हाथ कट गया।

डीएसपी सतीश वत्स मंगलवार को किशनपुरा चौकी क्षेत्र स्थित एक घर में पहुंचे। पूछताछ के बाद जागरण को बताया कि दूसरे पक्ष से बात की गई है। यहां रहने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि 23 अगस्त की रात को उसका सात वर्षीय बेटा चारपाई से गायब हो गया। उसने पत्नी को जगाया। पड़ोसियों की मदद से बेटे की तलाश शुरू कर दी। घर का पिछला गेट खुला मिला तो बच्चे को तलाशते हुए किशनपुरा पार्क में पहुंचे। वहां पर इखलाक बच्चे के साथ कुकर्म करने की कोशिश कर रहा था। इखलाक ने उसकी तरफ ईंट फेंकी। फिर उसके साथ हाथापाई की। भाई मौके पर आया तो इखलाक पार्क की ग्रिल कूदकर नग्नावस्था में ही फरार हो गया। बच्चे के होंठ सूजे हुए थे, खून निकल रहा था।

स्टेशन अधीक्षक को बताया था कि हाथ कटा है

परिवार के सदस्य बच्चे को लेकर घर लौट गया। पुलिस कार्रवाई के झंझट से बचने के लिए मामले की शिकायत नहीं की। इधर, आरोपित गोहाना रोड पर रेलवे ट्रैक पार करने की कोशिश करने लगा तो ट्रेन की चपेट में आ गया। डीएसपी सतीश वत्स ने बताया कि इखलाक ने स्टेशन अधीक्षक धीरज कपूर और आरपीएफ के जवान को ट्रेन की चपेट में आने से हाथ कटने की बात कही थी। जीआरपी ने उसे सामान्य अस्पताल पहुंचाया, जहां से उसे पीजीआइ रोहतक रेफर कर दिया गया।

भाई ने लगाया था ये आरोप

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के ननौता कस्बे के इकराम सलमानी ने बताया कि उसका भाई तीन-चार दोस्तों के साथ काम की तलाश में बद्दी, हिमाचल प्रदेश गया था। वहां काम नहीं मिला तो दोस्त गांव लौट आए। इखलाक पानीपत में रुक गया। पुलिस को दी शिकायत में आरोप लगाया कि 23 अगस्त की रात को इखलाक किशनपुरा पार्क के पास एक मकान में पानी मांगने गया तो वहां कुछ लोगों ने उसे घर में खींच लिया। चार घंटे तक मारपीट कर उसे लहुलूहान कर दिया। फिर चारा मशीन से उसका हाथ काटकर मृत समझ रेलवे लाइन पर फेंक दिया। मामला वायरल होने पर जीआरपी ने जीरो एफआइआर दर्ज कर केस थाना चांदनी बाग ट्रांसफर कर दिया।

--------------------

दोनों ही पक्षों ने एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाए है। आज बच्चे के घर का मौका निरीक्षण कर परिवार और पड़ोसियों से पूछताछ की गई। मौके पर जीआरपी पुलिस को भी बुलाया गया। जांच के आधार पर आगामी कार्रवाई की जाएगी।

सतीश वत्स, डीएसपी हेडक्वार्टर।

Edited By: Jagran