जेएनएन, पानीपत। नगर को स्वच्छ बनाने की दिशा में नगर निगम ने एक अहम कदम उठाया है। हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (हुडा) को जारी नोटिस के अनुसार भवन निर्माण में लगे श्रमिकों को यदि शौचालय की सुविधा नहीं दी गई तो भवन के नक्शे रद कर दिए जाएंगे। साथ ही भवन निर्माण शुरू होने से पहले नक्शे में शर्त के अनुसार यह सुनिश्चित करना पड़ेगा कि भवन निर्माण में लगे श्रमिकों के लिए शौचालय की सुविधा दी गई है अथवा नहीं। इसके लिए भवन निर्माता को शपथ पत्र भी देना होगा।

निगम की ओर से हुडा को जारी नोटिस में कहा गया है कि हुडा सेक्टरों में भवनों के निर्माण में लगे श्रमिकों के लिए शौचालय उपलब्ध करवाए। फिलहाल भवन निर्माण में लगे ज्यादातर श्रमिक खुले में शौच करते हैं, जिससे शहर को खुल में शौच मुक्त बनाने के अभियान को धक्का लग रहा है। निगम आयुक्त ने हुडा विभाग को यह भी निर्देश दिए कि नक्शा पास करने से पहले उसमें लेबर तथा स्टाफ के लिए टॉयलेट उपलब्ध करवाने की शर्त रखे। साथ ही शपथ पत्र भी लिया जाए। नगर निगम आयुक्त वीना हुडा ने बताया कि यह व्यवस्था नगर निगम ने भी नक्शा पास करने पर लागू कर दी है।

पढ़ें : महिला खिलाड़ी बाेली- कोच करता है छेड़छाड़, विरोध करने पर देता है धमकी

सुलभ शौचालय देंगे फ्री सुविधा

शहर में चल रहे सात सुलभ शौचालय में शौच जाने के लिए अब कोई भी फीस नहीं देनी पड़ेगी। निगम ने लाल टंकी, एपीएस, अनाज मंडी, खुराना अस्पातल के पास, रेडक्रास के पास, संजय पार्क व हॉली पार्क में बनाए गए सुलभ शौचालय फ्री कर दिए हैं। इन सातों सुलभ शौचालयों के लिए निगम छह माह के लिए एक लाख 24 हजार दो सौ रुपये सुलभ इंटरनेशनल को देगा। स्वच्छ भारत अभियान के तहत छह माह तक इन शौचालयों को लोग मुफ्त में प्रयोग कर सकेंगे।

पढ़ें : कैश के लिए बैंक आई महिला का गर्भपात, घंटों कतार में लगने से बिगड़ी तबीयत

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस