कैथल, जागरण संवाददाता। कोरोना महामारी के बाद स्कूल खुलने के बाद अब शिक्षा विभाग द्वारा अन्य गतिविधियों को भी आयोजित किया गया है। इस अायोजन के तहत शिक्षा विभाग दो साल के अंतराल के बाद करनाल में सांस्कृतिक उत्सव आयोजित करेगा। कार्यक्रम 21 से 23 अक्टूबर तक आयोजित किया जाएगा। इस कार्यक्रम में पूरे राज्य से एक हजार से अधिक विद्यार्थी हिस्सा लेंगे।

बता दें कि इस कार्यक्रम को लेकर सांस्कृतिक गतिविधियों में हिस्सा लेने वाले वाले छात्र-छात्राओं में काफी उत्साह है। इससे इन विद्यार्थियों को अपनी कला को प्रदर्शित करने का मौका मिलेगा। इसी कड़ी में राज्य स्तरीय कार्यक्रम को लेकर पूरे प्रदेश के स्कूलों में हरियाणा कला परिषद द्वारा विद्यार्थियों नृत्य का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। कैथल में जाखौली अड्डा स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल में दस दिवसीय नृत्य प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

इस कार्यकम में महम से भारत भूषण प्रशिक्षण दे रहे हैं। जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता संगीत अध्यापक कृष्ण कुमार कर रहे हैं राज्य स्तरीय कार्यक्रम में विद्यार्थियों में नृत्य की दो स्पर्धा व रागिनी प्रतियोगिता का आयोजन करवाया जाएगा। इसमें समूह नृत्य, सोलो डांस व रागिनी में अलग-अलग पुरस्कार की राशि भी दी जाएगी। इसमें जिले से भी कुल 200 विद्यार्थी हिस्सा लेंगे। राज्य स्तरीय कार्यक्रम 21 अक्टूबर से करनाल पुराना बस स्टैंड के समीप स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में आयोजित किया जाएगा।

यह रहेगी पुरस्कार की राशि

समूह नृत्य में प्रथम रहने वाली टीम को 31 हजार, द्वितीय रहने वाली टीम को 21 हजार, तृतीय रहने वाली टीम को 11 हजार। इसी प्रकार से सोलो डांस में प्रथम स्थान करने वाले प्रतिभागी को 5100, द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागी को 3100 व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागी को 1100 रुपये की पुरस्कार की राशि दी जाएगी। इसी प्रकार से यही राशि रागिनी में अव्वल रहने वाले प्रतिभागियों को दी जाएगी।

यह रहेगा कार्यक्रम का शेड्यूल

तिथि कक्षा प्रतिस्पर्धा

21 अक्टूबर छठी से आठवीं समूह नृत्य, एकल नृत्य व रागिनी

22 अक्टूबर नाैवीं से 12वीं समूह नृत्य, एकल नृत्य व रागिनी

23 अक्टूबर पारितोषिक वितरण समूह नृत्य, एकल नृत्य व रागिनी

सरकार के आदेशों के तहत कुछ दिन पहले ही जिला स्तर पर सांस्कृतिक उत्सव कार्यक्रम का आयोजन करवाया गया था। इसके बाद अब जिला स्तर पर अव्वल रहने वाली टीमें राज्य स्तरीय कार्यक्रम में हिस्सा लेंगी। इससे पहले हरियाणा कला परिषद द्वारा दस दिवसीय प्रशिक्षण शिविर शुरू किया गया है। जिसमें नृत्य सिखाने के परिषद के प्रशिक्षक पहुंचे हैं।

चंद्रकला रापड़िया, डीईईओ व संयोजक, सांस्कृतिक कार्यक्रम, कैथल।

Edited By: Anurag Shukla