पानीपत, जेएनएन। मैं एक दल से निकाला गया था। कार्यकर्ताओं ने रात-दिन मेहनत कर जजपा को मजबूत किया। मुझमें कमियां होतीं तो 18 लाख वोट नहीं मिलते और न ही 10 सीटें मिलतीं। जेएनयू में हिंसा दुर्भाग्यपूर्ण है।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने मंगलवार को बड़ौली गांव स्थित डॉ. प्रेम कैंसर अस्पताल के उद्घााटन के बाद पत्रकार वार्ता में ये बातें कही। डिप्टी सीएम ने अपने दादा और पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला के बयानों पर प्रतिक्रिया दे रहे थे। जेएनयू में हिंसा पर उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को अपनी बात रखने के लिए आंदोलन का अधिकार है। इनसो से जुड़े छात्र ऐसा करते रहे हैं। आंदोलन के नाम पर हिंसा-तोडफ़ोड़ और देश विरोधी नारेबाजी करना गलत है। सिवाह में बन रहे बस अड्डा के पास क्रॉसिंग के लिए पुल नहीं बनने पर उन्होंने कहा कि कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेस-वे (केएमपी)का काम करने वाली कंपनी ही इस पुल को बनाएगी, काम जल्द शुरू होगा। केएमपी प्रोजेक्ट पूरा नहीं होने पर कहा कि दोबारा से काम शुरू हो गया है। 

हुड्डा से पूछें एग्रो मॉल क्यों बनाए

200 करोड़ से बने चार एग्रो मॉल बंद पड़े रहने पर कहा कि यह तो पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा से पूछना पड़ेगा कि इतना पैसा क्यों बर्बाद किया। इस मौके पर शहर विधायक प्रमोद विज, पानीपत ग्रामीण विधायक महीपाल ढांडा, डॉ. अभिनव मुटनेजा और देवेंद्र कादियान मौजूद रहे।

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस