पानीपत/जींद, [कर्मपाल गिल]। डिप्टी सीएम की शपथ लेने के बाद दुष्यंत चौटाला गुरुवार को पहली बार अपने विधानसभा क्षेत्र उचाना पहुंचे। इस दौरान उनसे मिलने और कामों की पर्चियां देने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। दुष्यंत ने किसान सेवा केंद्र के अंदर बैठकर समस्याएं सुननी शुरू की तो उत्तेजित भीड़ ने केंद्र का गेट भी तोड़ डाला। आखिर में दुष्यंत को बाहर आकर लोगों की पर्चियां पकडऩी पड़ी।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल लोगों की पर्चियां पकडऩे से परहेज करते रहे हैं, लेकिन गुरुवार को दुष्यंत चौटाला को अपने निजी कामों की पर्चियां देने के लिए दो घंटे तक लोगों में जद्दोजहद रही। धक्का-मुक्की के बावजूद दुष्यंत के चेहरे पर शांति रही। दुष्यंत ने कहा कि उनके पास 11 विभाग हैं। सभी विभागों को समझने में समय लगेगा। चंडीगढ़ में इन विभागों के काम भी करने पड़ेंगे और पूरा हरियाणा भी संभालना पड़ेगा। इसलिए आप लोगों से मिलने और आपकी समस्याएं सुनने के लिए 15वें दिन उचाना आएंगे। आपकी हर समस्या का समाधान होगा। कोई भी अधिकारी लोगों को कामों को लेकर परेशान न करें। प्राथमिकता के आधार पर लोगों के काम करें। आज आप लोगों से मिलने आया हूं। जेजेपी के जो कार्यकर्ता पहले इनेलो में थे, अब 15 साल बाद सरकार में साझीदार बनने पर उनके चेहरों पर खुशी दिखाई दी। दुष्यंत चौटाला के लोगों के बीच आकर मिलने, किसी काम को लेकर सहमति लेने पर लोग उन्हें युवा देवीलाल कहते दिखे।

चुनाव में जो उलटी धारा में बहे, अब यहां साथ दिखे

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि चुनाव में जिन लोगों ने उलटी धारा में बहने का काम किया था, आज वे लोग यहां ऐसे दिखाने का प्रयास कर रहे थे कि वे साथ थे। कार्यकर्ता इस बात की चिंता न करें कि मुझे कुछ पता नहीं है। मुझे सब पता है किन लोगों ने हमारे लिए काम किया है। हर कार्यकर्ता मेरे परिवार के सदस्य की तरह है। सबसे पहले मेरे कार्यकर्ता का काम होगा। हां, सामूहिक काम के लिए कोई भी आ सकता है। 

जनता से पूछा- भ्रष्टाचार के मामले में कार्रवाई करें या नहीं

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि शहर में नगर पालिका में हुए गोलमाल मामले में मामला दर्ज है। नगर पालिका की उस समय की चेपरपर्सन के खिलाफ भी मामला दर्ज है। कुछ लोग मेरे पास चंडीगढ़ आए थे। अब आप लोग बताओ, इस मामले में वो क्या करें। इस पर लोगों ने एक सुर में जबाव दिया कि जनता के पैसे का गोलमाल किया है। उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। भ्रष्टाचार करने वालों की किसी सूरत में मदद न करें। 

Posted By: Anurag Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप