जागरण संवाददाता, समालखा : निजी स्कूलों में 134 ए के तहत बच्चों का दाखिला करवाने के लिए अभिभावक दफ्तरों के चक्कर काट रहे हैं। स्कूलों में छुट्टी होने से अधिकारी भी असमर्थ हैं। इससे स्कूल संचालक और अफसरों के प्रति अभिभावकों में रोष पनप रहा है।

शास्त्री कॉलोनी के सोनू ने कहा कि पहली लिस्ट में उसकी बच्ची का नाम डीपीएस में पड़ा था। बाद में उसे बदलकर अपोलो स्कूल किया गया, जहां सीट खाली नहीं थी। अब हरेकृष्णा स्कूल आवंटित हुआ है। बेटी का दूसरी कक्षा में दाखिला होना है।

शास्त्री कॉलोनी के ही सचिन ने कहा कि उसके बेटे रूद्र को दूसरे ड्रा में हरेकृष्णा स्कूल मिला है। उसका दूसरी कक्षा में दाखिला होना है। 7वीं की छात्रा वंशिका पट्टीकल्याणा को भी दूसरे राउंड में हरेकृष्णा स्कूल आवंटित हुआ है। अंतिमा के पिता सुनील पट्टीकल्याणा ने कहा कि उसकी बेटी का नाम भी दूसरे ड्रा में हरेकृष्णा स्कूल की लिस्ट में है। 20 जून नामांकन का अंतिम समय है। छुट्टी के कारण स्कूल बंद हैं। अधिकारी कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे रहे। अभिभावकों ने अधिकारी और संचालकों पर मिलीभगत का आरोप भी लगाया है।

बीईओ, डीईओ और एसडीएम से भी की मुलाकात

अभिभावक बच्चों के नामांकन को लेकर परेशान हैं। खंड व जिला शिक्षा अधिकारी के अतिरिक्त वे एसडीएम से भी मिले हैं, लेकिन कोई समाधान नहीं हो रहा है। सभी निजी स्कूल जुलाई में खुल रहे हैं। उन्हें डर है कि उनके बच्चे कहीं दाखिले से वंचित न रह जाए। उनका एक साल खराब न चला जाए।

कराएंगे सभी का दाखिला : बीईओ

बृजमोहन गोयल ने कहा कि गर्मी छुट्टी में स्कूल बंद होने से नामांकन में परेशानी आ रही है। लाभार्थियों को नामांकन फार्म भरकर देने को कहा गया है, लेकिन कोई दे नहीं रहा है। स्कूल खुलते ही सभी का दाखिला करवा दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप