जागरण संवाददाता, अंबाला। छठ महापर्व की शुरूआत होने में अब एक दिन शेष है। लगातार तीन दिनों तक चलने वाले आस्था के इस महापर्व को बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश में पूर्वांचल के लोग मनाते हैं। पूर्वांचल और बिहार से आकर अंबाला के अलग अलग हिस्से में बसे लोग और प्रवासियों ने तीन दिन तक चलने वाले महापर्व मनाने के लिए तैयारियां शुरू कर दी है। सोमवार को नहाया खाया से शुरू होने वाला छठ का समापन वीरवार को सूर्य को अंतिम अर्घ देकर किया जाएगा।

अंबाला शहर नगर निगम परिक्षेत्र के बलदेवनगर निकट वीरजी की कुटिया के समीप छठ घाट, छावनी के रेलवे कालोनी में नाच घर स्थित छठ घाट को साफ सुथरा करके तैयार कर दिया गया है। अब इसमें पब्लिक हेल्थ और रेलवे के ट्यूबवेल से पानी भरने का कार्य सोमवार सुबह होगा। व्रत के लिए तैयारी में जुटे श्रद्धालु बाजार में पूजा के लिए जरूरी सूपा, ढलिया और फल से लेकर पूजन सामाग्री की खरीददारी करने में व्यस्त है।

टांगरी नदी बंधे में स्थानीय लोग बना रहे घाट

छावनी में महेशनगर टांगरी नदी के बंधे के आसपास बसे बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश के प्रावासी महापर्व मनाने के लिए घाट तैयार करने में जुटे हैं। अस्थाई रूप से बनाए जा रहे कृत्रिम घाट में पानी भरकर व्रती श्रद्धालु महिला और पुरुष ढलते व उगते सूर्य को अर्घ देंगे। टांगरी के निकट तैयार हो रहे कृत्रिम घाट पर करीब 200 व्रती महिलाएं और पुरुष पूजा अर्चना करेंगे।

बाजार में श्रद्धालु खरीददारी में जुटे

छठ पूजा के लिए बांस का सूपा और ढलिया व टोकरी से लेकर फलों की खरीददारी श्रद्धालुओं ने करनी शुरू कर दी है। पूजा सामाग्री की दुकान पर भी भीड़ बढ़ने लगी है। छावनी के हिल रोड स्थित गुलाटी पूजा भंडार पर छठ महापर्व के लिए उपयुक्त पूजन सामाग्री का पैक तैयार है। कपड़े की दुकानों पर भीड़ बढ़ने लगी है।

सूपा व दउरा की सजी दुकानें

पूजा के लिए सूपा और दउरा में फल को रखकर व्रती व श्रद्धालु अपने घर से घाट तक सिर पर रखकर ले जाते हैं। बाजार में सूपा और दउरा की दुकानें सज गई है। हालांकि इस बार पिछले साल की तुलना में सूपा और दउरा के दाम में 30 से 40 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है। चूना चौक स्थित दुकान पर सूपा 90 रुपए से 120 और दउरा 130 से 160 रुपए के बीच बिक रहा है।

सोमवार को नहाया खाया

मंगलवार को खरना

बुधवार को पहला अर्घ

वीरवार को अंतिम अर्घ और पर्व का समापन

इन दामों में बिक रही साड़ियां

काटन की साड़ी 400 से 700 रुपये

चुनरी प्रिंट साड़ी 700 से 1000 रुपये

सिंथोटिक साड़ी 1200 से 2000 रुपये

डिजाइनर साड़ी 2500 से 4000 रुपये

सिल्क साड़ी 4000 से 6000 रुपये

फैंसी साड़ी 1500 से 4000 रुपये

धोती 200 से 400 रुपये

छठ पूजा के जरूरी फल

अनानास, नारियल, गन्ना, सिंघाड़े, अदरक, कच्ची हल्दी, सलीफा, हरा नीबू से लेकर केला, सेब से लेकर अन्य फलों की छठ पूजा के लिए श्रद्धालु खरीददारी कर रहे हैं। पूजा सामाग्री की दुकान पर आल्ता, छठ धूप, केरउ, सांठी का चावल, लौंग, इलाइची, सुपारी और पान की पूजा में विशेष रूप से जरूरत पड़ती है।

Edited By: Naveen Dalal