पानीपत, [विनोद जोशी]। पानीपत जाटल रोड पर कारपेट फैक्‍ट्री में लगी आग की वजह से सैकड़ों परिवार वालों के सपने को खाक में मिला दिया। दीपावली के लिए परिवार वालों ने कई सपने संजोए थे। फैक्‍ट्री के साथ-साथ आसपास के घरों में फैल रही आग से लोगों का रो रोकर बुरा हाल है। न्‍यू आरके पुरम, सैनी पुरा, सुखीजा कालोनी, पुरम कालोनी और पीपल वाली गली को खाली करा दिया गया है। लोगों का कहना है कि जरूर सामान तो ले आएं, लेकिन दीवाली के सपने घर में लगी आग से खाक हो गए।

फैक्‍ट्री की आग की वजह से सुबह करीब छह बजे आसपास की कालोनियों के करीब पांच से छह सौ लोगों को बाहर निकाला गया। आग कुछ घरों में भी फैल गई। पुलिस के आदेश के बाद अफरातफरी में जरूरी सामान लेकर ही घरों से बाहर आएं।

यह भी पढ़ें: पानीपत की कारपेट फैक्‍ट्री में लगी भयंकर आग, कई घरों में फैली, सैकड़ों परिवारों को बाहर निकाला

पानीपत के न्‍यू सैनीपुरा निवासी तेजपाल ने बताया कि सुबह करीब साढ़े छह बजे पुलिसकर्मी आए। उन्‍होंने पांच मिनट में घर से बाहर निकलने को कहा। इस अफरातफरी में कुछ जरूरी ही सामान ले पाया। दो छोटे बच्‍चे और पत्‍नी को लेकर सड़क पर आ गया हूं। वहीं, पत्‍नी मकान छोड़ने को तैयार नहीं थी। दीवाली के लिए मकान में रंगाई पुताई करवाई थी। तैयारी के लिए जरूरी सामान भी लेकर आए थे।

मुखीजा कॉलोनी पीपल वाली गली में लोग घरों से बाहर निकल आए हैं। अब उन्‍हें डर सता रहा है कि कहीं आग वहां तक न फैल जाए। 

ज्‍योति ने बताया कि जाटल रोड में ही फैक्‍ट्री के पास ही उनका घर है। पुलिस और दमकल ने घर से बाहर जाने को कहा है। घर में आग फैल रही है। ज्‍योति अपनी सास के साथ घर के बाहर हैं। ज्योति ने बताया कि हमारी आंखों के सामने हमारे सपने खाक हो रहे हैं।

वहीं पुलिसकर्मी बार-बार दूर जाने को कह रहे हैं, जबकि परिवार वाले पास में ही बैठे हैं। दमकल कर्मी किसी तरह से घर में लगी आग को बुझाने का प्रयास कर रहे हैं।

Edited By: Anurag Shukla