पानीपत/कुरुक्षेत्र, जेएनएन। भारतीय किसान यूनियन के आह्वान पर दिल्ली घेराव को लेकर किसान कुरुक्षेत्र में दाखिल हो गए हैं। किसानों का जत्था अंबाला के मोहड़ा से चलकर कुरुक्षेत्र के त्योड़ा गांव तक पहुंच गया है। डीसी शरणदीप कौर बराड़ व एसपी हिमांशु गर्ग ने मोर्चा संभाल लिया है। दोनों अधिकारी पुलिस बल के साथ जीटी रोड पर तैनात हैं। भारतीय किसान यूनियन ने दिल्ली कूच शुरू करते ही प्रशासन व पुलिस ने मोहड़ी के पास पुलिस नाकों पर रोकने का प्रयास किया, लेकिन किसानों ने क्षण भर में ध्वस्त किया है। पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए पानी की बौछारें भी मारी है और किसानों और पुलिस की झड़प भी हुई है। नाको को तोड़ने के दौरान कई पुलिस कर्मचारी सड़क पर गिर गए।

 जिलाधीश एवं उपायुक्त शरणदीप कौर बराड़ ने कहा है कि भारतीय किसान यूनियन के नेताओं द्वारा किसानों से किया गया है कि 26 नवंबर को दिल्ली घेराव का आह्वान किया गया है। इसके साथ-साथ हरियाणा सर्व कर्मचारी संघ द्वारा भी 26 नवंबर को हड़ताल पर जाने का ऐलान किया गया है। इसलिए जिला कुरुक्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाएं रखने के लिए तुरंत प्रभाव से 27 नवंबर स्थिति सामान्य होने तक धारा 144 लगााने के आदेश पारित किए गए है।

 

जिलाधीश शरणदीप कौर बराड़ ने बुधवार को जारी आदेशों में कहा है कि भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढुनी के आह्वान पर 26 नवंबर को दिल्ली घेराव को लेकर ज्यादा से ज्यादा संख्या में किसानों के पहुंचने का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। इसके साथ-साथ विभिन्न कर्मचारी संगठनों द्वारा भी 26 नवंबर को हड़ताल पर जाने व रोष प्रदर्शन करने बारे आह्वान किया है। किसानों व कर्मचारियों के विरोध प्रदर्शन के दौरान रोड जाम व कानून एवं व्यवस्था तथा उक्त प्रदर्शन के दौरान किसानों व कर्मचारी संगठनों की अधिक संख्या में एकत्रित होने के कारण कोरोना महामारी के फैलने का खतरा है। इस प्रदर्शन की आड़ में कुछ असामाजिक व शरारती तत्वों द्वारा किसी भी प्रकार की गड़बड़ी फैलाकर कानून एवं व्यवस्था की स्थिति को बिगाड़ने व रोड जाम करने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है।

ज्वलनशील पदार्थ व हथियार नहीं ले जा सकते

उन्होंने जारी आदेशों में कहा है कि इन तमाम पहलुओं को देखते हुए कानून व्यवस्था को बनाएं रखने के लिए कुरुक्षेत्र जिला में धारा 144 लगाने के आदेश जारी किए गए है। इन आदेशों के अनुसार जिला कुरुक्षेत्र में 27 नवम्बर स्थिति सामान्य होने तक किसी भी व्यक्ति लाठी, डंडे, तलवार, गंडासी, आग्नेय शस्त्र व किसी भी प्रकार घातक हथियार, खुले पेट्रोल, डीजल, केन इत्यादि लेकर चलने पर पूर्णत: पाबंदी रहेगी। पुलिस अधीक्षक कुरुक्षेत्र और संबंधित थाना प्रभारी अपने-अपने नियंत्रण क्षेत्र में 27 नवम्बर स्थिति सामान्य होने तक कुरुक्षेत्र शहर में भारी वाहनों रेत व बजरी से भरे ट्रक-ट्रालों, ट्रैक्टर-ट्रालियों इत्यादि का आवागमन रोकने तथा गमन अल्टरनेट रुट से करवाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यक्ति इन आदेशों की अवहेलना करते हुए दोषी पाया गया तो उसके खिलाफ आइपीसी की धारा 188 के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Anurag Shukla