जागरण संवाददाता, पानीपत : टोल प्लाजा पर संयुक्त किसान मोर्चा आह्वान पर किसान आंदोलन के समर्थन में अनिश्चितकालीन धरना जारी है। जहां मंगलवार को संयुक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में नई अनाज मंडी पानीपत में 26 सितंबर को होने वाली किसान महापंचायत व 27 सितंबर को भारत बंद की तैयारियों को लेकर बैठक हुई। अध्यक्षता अखिल भारतीय किसान सभा के जिला संयोजक डा. सुरेंद्र मलिक व भाकियू के पूर्व प्रधान जयकरण कादियान ने की।

सीटू मजदूर संगठन के राज्य सचिव सुनील दत्त ने कहा कि कृषि कानूनों के विरोध में किसानों को आंदोलन पिछले करीब दस माह से जारी है। लेकिन सरकार कानून वापस लेने को तैयार नहीं है। उन्होंने बताया कि पानीपत में होने वाली किसान महापंचायत में हजारों की संख्या में किसान मजदूर शामिल होंगे। वहीं अगले दिन भारत बंद दुनिया का सबसे बड़ा ऐतिहासिक बंद साबित होगा। बंद में ज्यादा से ज्यादा लोग सड़कों पर उतरेंगे। इसका देश की 19 विपक्षी पार्टियों ने भी समर्थन किया है। ऐसे में भारत बंद दुनिया में इतिहास रचने वाला। वहीं किसान सभा के नेता प्रीतम रावल, मंगल सिंह, सीताराम, रामकिशन आर्य, मास्टर धर्म सिंह, मास्टर हुकमचंद, रमेश कुमार, राजेश ने संबोधित किया। भाकियू के पूर्व जिला प्रधान बिटू मलिक ने बताया कि 26 व 27 सितंबर के कार्यक्रमों की तैयारी में इसराना, पानीपत, मतलौडा, समालखा, बापौली व सनौली खंड के गांव में जोर शोर से प्रचार के लिए किसान मजदूरों की संयुक्त टीमें लगी हुई हैं। उन्होंने बताया कि किसान महापंचायत को संयुक्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय नेता राकेश टिकैत व अन्य संयुक्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय स्तर के नेता संबोधित करेंगे।

Edited By: Jagran