पानीपत, जेएनएन। ट्रैफिक पुलिस ने नियमों को ताक पर रखकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ अभियान चला दिया है। बस स्टैंड के पास सुखदेव नगर में 20 हजार रुपये का चालान कर ई-रिक्शा को जब्त कर लिया गया। इसके विरोध में 50 से ज्यादा ई-रिक्शा चालक किला के नीचे एकजुट हुए और ट्रैफिक पुलिस के प्रति रोष जताया। चालक किला थाने में भी पहुंचे। पुलिस ने चालकों का समझाया कि नियमों की पालना करेंगे तो चालान नहीं होंगे। 

राजीव कॉलोनी के मतलूब ने बताया कि दस दिन पहले उसने ब्याज पर 40 हजार रुपये लेकर ई-रिक्शा लिया था। 1 नवंबर को बस स्टैंड के पास बाबरपुर ट्रैफिक थाना प्रभारी महेंद्र ने 20 हजार रुपये का चालान कर दिया। अब उसके लिए बच्चों को पोषण करना भी मुश्किल हो रहा है। वहीं कुटानी रोड ई-रिक्शा यूनियन के प्रधान कृष्णलाल, खुर्शीद, ऋषिपाल, रामस्वरूप, हैप्पी, ओमप्रकाश, राकेश और कल्लू का कहना है कि वे सुबह से लेकर रात तक रिक्शा चलाकर मुश्किल से 500 रुपये कमाते हैं। ट्रैफिक पुलिस उन्हें नाजायज तरीके से तंग करती है। इंडीकेटर न चलने पर भी चालान कर दिया जाता है। इससे वे परेशान हो चुके हैं। परिवार के भूखे मरने की नौबत आ गई है। 

ई-रिक्शा चालक मतलूब का चालान किया है। उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस, आरसी व अन्य दस्तावेज नहीं थे। बिना दस्तावेज के ई-रिक्शा जीटी रोड पर नहीं चलने दिए जाएंगे। क्योंकि हादसा होने पर ई-रिक्शा चालक को ढूंढा नहीं जा सकता है। चालकों का आह्वान  कि वे ड्राइङ्क्षवग लाइसेंस, आरसी व अन्य दस्तावेज जल्द बनवा लगें। अन्यथा उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

महेंद्र सिंह,  प्रभारी, बाबरपुर ट्रैफिक थाना।

Posted By: Anurag Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप