कुरुक्षेत्र, जागरण संवाददाता। कुरुक्षेत्र में डेंगू के मरीजों में प्लेटलेट्स कम दिखाकर डर का खेल खेला जा रहा है। ऐसे में मरीजों के स्वजनों में प्लेटलेट्स लेकर आने की होड़ लगी हुई है। जहां कुछ मरीजों के स्वजन बिना जरूरत के खुद चिकित्सकों पर प्लेटलेट्स चढ़ाने का दबाव बना रहे हैं वहीं कुछ निजी चिकित्सकों से मिली प्लेटलेट्स रिपोर्ट मरीजों को भ्रमित कर रही है। एक बड़े निजी अस्पताल संचालक की माने तो पिछले कुछ दिनों में उनके पास ऐसे भी मरीज आए जिनके प्लेटलेट्स 10 या 15 हजार दिखाकर उन्हें प्लेटलेट्स के लिए भगाया जा रहा था, जबकि उन्होंने अपनी मशीन पर जब जांच की तो उसमें ज्यादा प्लेटलेट्स मिले। यानी उन मरीजों को प्लेटलेट्स चढ़ाने की जरूरत ही नहीं थी। चिकित्सक के मुताबिक ऐसा भ्रम फैलाने वाले लोगों की वजह से भी प्लेटलेट्स की डिमांड बढ़ रही है और बड़ी प्लेटलेट्स किट की किल्लत बढ़ गई है। 

मरीज एक सैंपल की जांच बाहर भी कराएं 

चिकित्सक ने सलाह दी कि मरीजों के स्वजनों को ऐसी स्थिति में दो सैंपल जांच कराने चाहिए एक निजी चिकित्सक पर और दूसरा बाहर किसी लैब पर। उन्होंने बताया कि उनके पास ऐसे कई मरीज आए हैं जिनके प्लेटलेट्स 30 से 40 हजार के बीच में थे और उन्हें 10 हजार प्लेटलेटस रह जाने की रिपोर्ट थमाकर प्लेटलेट्स का इंतजाम करने के लिए भगाया जा रहा था। उसी सैंपल से जांच करने पर प्लेटलेट्स इतने कम नहीं मिले कि उनकी जान पर बन सके। 

दीपावली के बाद नहीं आई बड़ी प्लेटलेट्स किट 

एक अलग चिकित्सक ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि दीपावली के बाद ब्लड बैंकों में बड़ी प्लेटलेट्स किट भी मरीजों को नहीं मिल रही। जब किट उपलब्ध होती है तो मरीजों में किट लेने की होड़ लग जाती है। चिकित्सक 30 से 40 हजार प्लेटलेट्स वाले मरीजों को भी प्लेटलेट्स की बड़ी किट चढ़ा रहे हैं, जिन्हें प्लेटलेट्स की जरूरत ही नहीं है। दस हजार से कम होने पर मरीज को प्लेटलेट्स की जरूरत होती है। जबकि बड़ी किट में 20 से 50 हजार प्लेटलेट्स होते हैं। इससे बड़ी प्लेटलेट्स किट की मांग बढ़ गई है। जिसकी वजह से जरूरतमंद को किट मिलने में दिक्कत होती है और मरीजों के स्वजनों को दूसरे जिलों में भागना पड़ रहा है। 

एलएनजेपी अस्पताल के ब्लड बैंक में जांच करा सकते हैं प्लेटलेट्स : डा. सुदेश सहोता 

मलेरिया नोडल अधिकारी डा. सुदेश सहोता ने बताया कि भले ही एलएनजेपी अस्पताल के ब्लड बैंक में प्लेटलेट्स उपलब्ध नहीं है, लेकिन यहां डेंगू टेस्ट और प्लेटलेट्स की जांच हो रही है। अगर किसी भी मरीज को संशय है कि कहीं पर प्लेटलेट्स की सही जांच नहीं हो रही तो वह एक सैंपल एलएनजेपी अस्पताल की लैब में भी जांच करा सकता है।

Edited By: Rajesh Kumar