पानीपत/यमुनानगर, जेएनएन।  यमुनानगर के भाटिया नगर में होली के जश्न के दौरान खूनी संघर्ष हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि ईट पत्थर और तेजधार हथियार के अलावा फायरिंग तक हुई। फायरिंग के दौरान दो लोगों को गोली लगी। कार को भी तोड़ दिया गया। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

होली के दिन ईस्ट भाटियानगर में दो पक्षों के बीच झगड़ा हो गया। दोनों ओर से धारदार हथियार चले। इस दौरान फायरिंग भी हुई। जिसमें दो युवकों को गोली लगी है। इस वारदात में चार लोग जख्मी हुए हैं। जिनका इलाज चल रहा है। दोनों पक्षों के बीच पुरानी रंजिश में यह झगड़ा हुआ। बताया जा रहा है कि पहले मारपीट के मामले में सुमित राणा पक्ष पर रमन पक्ष ने केस दर्ज कराया था। जिसमें उनकी गिरफ्तारी हुई थी। इसके बाद से ही उनके बीच रंजिश चल रही है। होली के दिन उनके बीच कहासुनी हुई। जिस पर दोनों पक्ष आमने सामने हो गए। 

यह दी गई शिकायत

ईस्ट भाटियानगर निवासी मनोज कुमार उर्फ शंटी जागधौली के संजू के साथ शराब ठेकेदारी करता है। 10 मार्च को मनोज अपने दोस्त उन्हेडी निवासी सुमित राणा, इंद्रा गार्डन निवासी अमित, नंदा कॉलोनी निवासी जसबीर उर्फ मोनू, गांधीनगर निवासी पीयूष के साथ सुढैल में होली खेलने के लिए जा रहे थे। वहां से सभी दो कारों में अपने एक अन्य दोस्त तीर्थनगर निवासी नान्नू उर्फ लव को छोडऩे के लिए आ रहे थे। जब उसे छोड़कर वापस आने लगे, तो सिटी सेंटर के बाहर सड़क पर चूना भट्टी निवासी रमन वाल्मीकि, जानू, प्रिंस, विश्वकर्मा कॉलोनी निवासी बॉबी, विशाल उर्फ गुबारा, मोहित उर्फ मन्नी शर्मा, आकाश श्रीवास्तव, अमित, सन्नी मुर्गी व संदीप अपने 10-15 साथियों के साथ खड़े थे। जब वहां से निकले, तो जोनी ने उन्हें गालियां दी। विवाद न हो। इसलिए वहां से कार लेकर चलने लगे। इतने में जानू व उसके साथियों ने एक कार पर पीछे से ईंटें मारकर शीशा तोड़ दिया।

पथराव होता देखकर वह भाग निकले और अनाज मंडी जगाधरी पहुंच गए। इतने में मनोज की मां का फोन आया और उसने बताया कि घर पर 10-15 लड़कों ने रोड व धारदार हथियार से हमला कर दिया है। इस मनोज अपने दोस्तों के साथ सीधा घर पर पहुंचा। जब वह घर पहुंचे, तो वहां पर जानू्, बॉबी, रमन व उनके साथी हाथों में धारदार हथियार व पिस्टल लिए खड़े थे। जैसे ही वह पहुंचे, तो बॉबी ने सीधा उनके ऊपर फायर किया। गोली सीधी जसबीर की बाजू में जाकर लगी। डर के मारे वह कारों से उतरकर भागने लगे। तभी रमन ने पिस्टल से पीयूष पर फायर किया। उसकी कमर में गोली लगी।

इस दौरान आरोपितों के अन्य साथियों ने सुढैल के सचिन पंडित को पकड़ लिया और बुरी तरह डंडों व रॉड से पीटा। आरोप है कि इस दौरान रमन व जानू का पिता राजेंद्र वाल्मीकि भी वहां पर आ गया और सभी को घेरकर मारने के लिए कहने लगा। शोर शराबा होने पर आसपास के कॉलोनी के लोग एकत्र हुए, तो हमलावर जान से मारने की धमकी देकर वहां से भाग निकले। बाद में सचिन, जसबीर उर्फ मोनू व पीयूष को जख्मी हालत में अस्पताल में दाखिल कराया गया है। 

दोनों पक्ष मिले एसपी व डीएसपी हेडक्वार्टर से

इस मामले में दूसरे पक्ष से राजेंद्र वाल्मीकि बुधवार को डीएसपी हेडक्वार्टर सुभाष चंद से मिले। राजेंद्र ने कहा कि उनके बच्चे अपने मोहल्ले में होली का पर्व मना रहे थे। सचिन पंडित, सुमित राणा व अन्य अपने साथियों के साथ आए और उनके बच्चों के साथ झगड़ा किया। घर में घुसकर मारपीट की गई। यह विवाद इसलिए ही हुआ है। घर में घुसकर मारपीट की गई। उनकी ही कॉलोनी के एक लड़के को खींचकर फॉच्र्यूनर कार के नीचे डाल दिया गया। उसकी रीढ़ की हड्डी में चोट लगी है। अब उन पर ही पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। घायल लड़का निजी अस्पताल में दाखिल है। अभी वह बयान देने की हालत में नहीं है।

वहीं ईस्ट भाटियानगर निवासी जसवंत सिंह कुछ लोगों के साथ एसपी से मिलने पहुंचे। उन्होंने कहा कि पुलिस ने उनके बेटे मनोज की शिकायत पर केस दर्ज किया है। इसके बावजूद भी आरोपित खुले घूम रहे हैं। उनको लगातार धमकियां मिल रही है। 

डीएसपी हेडक्वार्टर सुभाष चंद ने बताया कि दोनों पक्षों के बीच पुरानी रंजिश की वजह से यह झगड़ा होने की बात सामने आई है। इस मामले में मनोज पक्ष की ओर से शिकायत के आधार पर केस दर्ज किया गया है। एक आरोपित मोहित उर्फ मन्नी शर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया है। दो युवकों को गोली लगी है। दूसरे पक्ष के लोग भी उनसे मिले थे। उनकी ओर से जो शिकायत आएगी। उसके आधार पर केस दर्ज किया जाएगा। 

 

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस