जींद, जागरण संवाददाता। जींद में डेंगू का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है। डेंगू के मच्छर के अनुकूल मौसम चलने के चलते मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। वीरवार को जेल के एक बंदी सहित डेंगू के 29 नए केस मिले हैं। इसमें से 15 मरीज अकेले जींद शहर के हैं। फिलहाल शहर की बाहरी कालोनियों डेंगू का हाट स्पाट बनी हुई हैं, क्योंकि बाहरी कालोनियों के खाली प्लाटों में लंबे समय से पानी भरा हुआ है और साफ सफाई भी कम है। वीरवार को नागरिक अस्पताल में 91 सैंपलों की जांच की गई। इसमें से 25 सैंपल डेंगू पाजिटिव मिले हैं। इसके अलावा चार डेंगू पाजिटिव की रिपोर्ट पानीपत से सिविल सर्जन कार्यालय पहुंची है। यह मरीज पानीपत के निजी अस्पतालों में दाखिल हैं।

यहां मिले डेंगू के केस

नागरिक अस्पताल की लैब से मिली रिपोर्ट में 15 जींद शहर, एक पिंडारा, एक जुलानी, एक सुंदरपुर, एक अमरहेड़ी, एक लखमीरवाला, एक हैबतपुर, एक नगूरां, एक गांगोली, एक भंभेवा, एक बनियाखेड़ा में डेंगू पीड़ित मिला है। जबकि पानीपत से आई रिपोर्ट में एक मरीज सफीदों, दो मरीज गांव रामनगर, एक मरीज ऐंचरा कलां का है। इसके साथ जिले में डेंगू के कुल मरीजों का आंकड़ा 501 पहुंच गया है। अगर इसी स्पीड से मरीजों की संख्या बढ़ती रही तो पिछले छह साल के रिकार्ड टूट जाएगा। नागरिक अस्पताल के वार्ड में 10 डेंगू के मरीज दाखिल हैं। वहीं निजी अस्पतालों में भी बुखार पीड़ितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग द्वारा डेंगू के मामलों में प्राइवेट अस्पतालों की रिपोर्ट को नहीं मानता है। जिन एरिया में डेंगू के मरीज मिले हैं, वहां पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सर्वे किया ओर वहां पर फोगिंग करवाई गई।

अस्पताल के वार्ड 10 में हो रहा डेंगू मरीजों का इलाज

जिला मलेरिया अधिकारी डा. तीर्थ बागड़ी ने बताया कि वीरवार को डेंगू के कुल 29 मरीज मिले हैं। अस्पताल के वार्ड में दस डेंगू मरीज इलाज ले रहे हैं। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि वह अपने आसपास के एरिया में सफाई रखें और पानी का ठहराव ज्यादा समय तक नहीं रहने दे। सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करें।

Edited By: Rajesh Kumar