कैथल, जेएनएन। कैथल में कोरोना संक्रमण बेकाबू हो गया है। मरीजों का आंकड़ा 8 हजार 132 तक पहुंच गया है। एक्टिव केसों की संख्या एक हजार 59 तक पहुंच गई है। इनमें 879 मरीज होम आइसोेलेट हैं। 108 मरीज सिविल अस्पताल, 30 सिग्नस व 40 मरीज शाह अस्पताल में दाखिल हैं। दो मरीज गुहला सिविल अस्पताल में दाखिल हैं। यहां 70 बेड हैं। सिविल अस्पताल में कुल 115 बेड हैं। यहां मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। 80 से ज्यादा मरीज ऑक्सीजन पर हैं।

मंगलवार को 63 मरीज कोरेाना संक्रमित मिले हैं। 134 मरीज स्वस्थ हुए हैं और छह मरीजों की मौत हो गई। मरने वालों में सोलू माजरा से 73 साल का बुजुर्ग, पट्टी अफगान गली नंबर नौ से 50 साल की महिला, मांडी सदरां से 80 साल का बुजुर्ग, चीका से 24 साल का युवक, सिंणद से 35 साल का युवक, पूंडरी से 63 साल के बुुजुर्ग की कोरोना से मौत हो गई। अब तक कुल 140 मौत जिले में हो चुकी हैं। मई माह में पिछले चार दिनों से लगातार कोरोना से मौत हो रही हैं। जिले का रिकवरी रेट 85.2 प्रतिशत दर्ज किया है।

जिला में करियाणा की सभी दुकानें सायं 6 बजे होंगी बंद : डीसी

डीसी सुजान सिंह ने जिला की सभी करियाणा की दुकान सायं छह बजे करने के निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने दुकानदारों का आह्वान किया है कि वह सरकार द्वारा जारी सभी हिदायतों का सख्ती से पालन करें। यदि कोई भी दुकानदार इन नियमों की अवहेलना करता पाया गया तो उनके खिलाफ आवश्यक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। दुकानदार बिना मास्क लगाए ग्राहक को सामान नही दें। अपनी दुकान के सामने शारीरिक दूरी में खड़े करने के लिए गोलदारा भी बनाएं। सैनिटाइजर का प्रयोग भी जरूर करें। कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए हर व्यक्ति को अपना सहयोग देना होगा। आमजन भी बिना मास्क के घरों से बाहर नहीं निकलें।

राजौंद में 63 लोगों के सैंपल लिए

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 67 लोगों के सैंपल लिए गए। 150 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। एसएमओ डा. संदीप सिंह ने बताया कि 62 लोगों के कोरोना जांच के लिए आरटीपीसीआर सैंपल लिए गए है। जबकि एंटीजन किट से 05 की जांच की गई, जिसमें सभी की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। उन्होंने बताया कि 18 से 45 वर्ष आयु वर्ग के जिन्होंने रजिस्ट्रेशन करवाया था उसमें 150 को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। उन्होंने बताया कि कोरोना से बचने के लिए मास्क का प्रयोग अवश्य करे और सामाजिक दूरी का पालन करते हुए भीड़ भाड़ वाले स्थान से बचे।

होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों की हो रही निरंतर निगरानी

जिला में 879 मरीज होम आइसोलेशन में है। इन लोगों से दूरभाष के माध्यम से संपर्क किया जाता है। ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों को मेडिकल किट, आयुर्वेदिक दवाइयों की होम डिलीवरी की जा रही है। जिला में कुल 34 कोविड केयर सेंटर हैं, जिनमें 1410 बेडों की व्यवस्था की गई है। जिला के सरकारी व निजी अस्पतालों में कुल 296 ऑक्सीजन बेड, 26 आईसीयू बेड तथा 17 वेंटिलेटर उपलब्ध हैं।

ये है वैक्सीनेशन की स्थिति

जिला में अभी तक 1 लाख 8 हजार 885 व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा चुका है। इनमें से 93 हजार 485 व्यक्तियों को पहली डोज व 15 हजार 400 व्यक्तियों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। मंगलवार को कुल 1370 व्यक्तियों को टीकाकरण किया गया। अब स्टोक के तौर पर 9 हजार 170 वैक्सीन उपलब्ध है। इसमें से 6830 कोविशिल्ड व 2340 कोवैक्सीन है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप