पानीपत, जेएनएन।  पानीपत अब जल्‍द ही कोरोना मुक्‍त हो जाएगा। लगातार कोरोना संक्रमण के केसों में कमी आ रही है। स्‍वस्‍थ हो रहे लोगों का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। सोमवार को केवल नौ केस मिले हैं। जबकि 38 लोग कोरोना संक्रमण से ठीक हो गए।

सिविल सर्जन डा. जितेंद्र कादियान ने बताया कि सोमवार को 39 ने कोरोना को हराया, नौ नए मरीज मिले हैं। नूरवाला निवासी एक महिला की खानपुर मेडिकल कालेज में मौत हुई है। अब तक मिले 30 हजार 999 पाजिटिव में से 30 हजार 281 रिकवर हो चुके हैं। 91 केस एक्टिव हैं, अब तक 624 की मौत हो चुकी है।

 

विदेश जाने वालों के लिए अच्‍छी खबर

विदेश जाने के इच्छुक, कोरोना की दूसरी डोज लगने का इंतजार कर रहे जिलावासियों के लिए अच्छी खबर है। अब वे 28 दिन बाद कोविशील्ड की दूसरी डोज लगवा सकते हैं। लाभार्थी पासपोर्ट व वीजा दिखाना होगा। सामान्य व्यक्ति को दूसरी डोज 84 दिन बाद लगाई जा रही है। उधर, सोमवार को 1056 लाभार्थियों ने पहली और दूसरी डोज लगवाई है।

वैक्सीनेशन नोडल अधिकारी डा. मनीष पासी ने बताया कि 23 जुलाई से टोक्यो ओलंपिक गेम्स होने वाले हैं। तमाम लोग इसके प्रत्यक्षदर्शी बनना चाहते होेंगे। इनके अलावा जिला के बहुत से बच्चे विदेश में पढ़ रहे हैं। औद्योगिक शहर होने के नाते व्यापारियों का विदेश आवागमन बना रहता है।ऐसे लोगों की सुविधा के लिए केंद्र सरकार ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है। ऐसे लोग 28 दिन बाद कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा सकते हैं। टीकाकरण केंद्र में अपना पासपोर्ट व वीजा दिखाना होगा। पहली डोज लगवाते समय लाभार्थी ने आधार कार्ड या दूसरी आइडी दिखाई थी, वे भी वीजा दिखाकर दूसरी डोज लगवाएं।

इनके लिए कोविन एप में सहूलियत दी गई है।डा. पासी के मुताबिक सोमवार को 18 से 44 साल आयु वर्ग में 296 ने पहली, 15 ने दूसरी डोज लगवाई है। 45 प्लस आयु वर्ग में 570 को पहली और 175 को दूसरी डोज लगी।

को-वैक्सीन लगवाने वाले फंसे

विदेश में उन्हीं लोगों को प्रवेश मिलेगा जिन्होंने कोविशील्ड की दोनों डोज लगवा ली हैं। को-वैक्सीन लगवा चुके लोगों का फिलहाल विदेश जाने का सपना पूरा नहीं होगा। अब स्वास्थ्य विभाग इस पर भी नजर रखेगा कि को-वैक्सीन लगवा चुका व्यक्ति कोविशील्ड भी न लगवा ले।

निजी अस्पतालों के लिए रेट निर्धारित

वैक्सीन के निर्धारित रेट पर पांच फीसदी जीएसटी सहित निजी अस्पताल वैक्सीन के लिए 150 रुपये प्रति डोज सर्विस चार्ज के लिए ले सकते हैं। कोविशिल्ड के लिए कंपनी के 600, को-वैक्सीन के लिए 1200 और स्पूतनिक-वी के लिए 948 रुपये निर्धारित हैं। इन पर क्रमश: 30, 60 व 47 रुपये (पांच फीसद जीएसटी) और 150 रुपये सर्विस चार्ज मिलाकर कोविशिल्ड की कीमत 780 रुपये, को-वैक्सीन की कीमत 1410 रुपये और स्पूतनिक-वी की कीमत 1145 रुपये बनती है।

Edited By: Anurag Shukla