पानीपत/करनाल, [प्रदीप शर्मा]। करनाल के गवर्नमेंट मेडिकल स्टोर डिपो (जीएमएसडी) में मंगलवार शाम को सुरक्षा के बीच कोरोना वैक्सीन पहुंच गई है। कोरोना वैक्सीन की पहली खेप एक अत्याधुनिक कंटेनर में पहुंची है। वैक्सीन आने से पहले ही जीएमएसडी में कड़े सुरक्षा इंतजाम कर लिए गए थे। स्टाफ को छोड़कर किसी को भी अंदर जाने की अनुमति नहीं है। यहां तक कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को भी जाने के लिए पहले अनुमति लेनी पड़ रही है। कोशिश यही की जा रही है कि फोन से ही बात चल जाए। जीएमएसडी परिसर से लेकर प्रवेश द्वार तक पूरी सख्ती कर दी गई है। कंटेनर में करीब 300 बाक्स कोरोना वैक्सीन डोज के पहुंचे हैं।

करनाल जीएमएसडी में कड़ी सुरक्षा के बीच कूल एक्स कोल्ड चेन लिमिटेड के जीपीएस सुविधा से लैस विशेष कंटेनर कोरोना वैक्सीन की डोज लेकर पहुंचा है। वैक्सीन के आगे व पीछे पुलिस की जिप्सी पायलट करते हुए चल रही थी। सूत्रों के मुताबिक जिस कंटेनर में कोरोना वैक्सीन आई है उनकी खास बात यह है कि वैक्सीन को स्टोर करने के लिए जिस प्रकार का भी वातावरण चाहिए, वह सेट हो जाता है।

करनाल में स्टोर नहीं होगी वैक्सीन

जीएमएसडी करनाल में जो वैक्सीन आई है उसे यहां स्टोर नहीं किया जाएगा। वैक्सीन पहुंचने के बाद यहां की कागजी प्रक्रिया पूरी करने के बाद उनको संबंधित सेंटर पर रवाना कर दिया जाएगा। हरियाणा और पंजाब राज्यों की वैक्सीन को चंडीगढ़ भेजा जाएगा। उत्तराखंड की वैक्सीन को देहरादून में भेजा जाएगा। हिमाचल प्रदेश की वैक्सीन भी इसी डिपो में आने की संभावना है, जिसको शिमला भेजा जा सकता है। हालांकि हिमाचल के हिस्से की वैक्सीन यहां पर आने की पुष्टि अधिकारिक तौर पर नहीं हुई है।

प्रत्येक कंटेनर में कोरोना वैक्सीन के करीब 300 बाक्स

जो विशेष ट्रक कोरोना वैक्सीन को लेकर यहां पर आएंगे, प्रत्येक कंटेनर में करीब 300 बाक्स हैं। प्रत्येक बाक्स का वजन 32 किलोग्राम तक का है। प्रत्येक बाक्स में 1.20 लाख खुराक है। करनाल जीएमएसडी में भी एक कंटेनर कोरोना वैक्सीन का पहुंचा है।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021