कुरुक्षेत्र, [विनीश गौड़]। कोरोना वायरस जो पहले सिर्फ को-मोर्बिड और ज्यादा उम्र वाले लोगों के जीवन पर खतरा बनकर मंडरा रहा था वह अब युवाओं की जान के पीछे पड़ गया है। जिले में पिछले 17 दिन में 73 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हुई है। इनमें से 23 मरने वाले 45 साल से नीचे के हैं। हैरान करने वाली बात यह है कि इनमें से ज्यादातर 25 से 35 साल के युवा थे। ऐसे में कोरोना अब युवाओं को भी नहीं बख्श रहा।

सोमवार को जो 150 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले उनमें से 110 मरीज 45 साल से नीचे के हैं। जबकि 40 कोरोना पॉजिटिव मरीज 45 वर्ष से ऊपर के मिले हैं। ऐसे में रोजगार के लिए अपने घरों से बाहर निकल रहे युवाओं को अब कोरोना अपनी चपेट में ले रहा है। यह जितना कोमोर्बिड और बुजुर्गों के लिए खतरनाक है उतना ही खतरनाक युवाओं के लिए भी है। ऐसे में जितना बुजुर्गों का ध्यान रखने की जरूरत है युवाओं को भी उतना ही कोरोना से अपने आपको बचाकर रखना होगा। 

पांच दिन में 25 मरे, 11 मरने वाले युवा 

पिछले देा दिन को छोड़कर अगर 11 से 15 तक की बात करें तो 25 कोरोना पॉजिटिव मरने वालों में से 11 मरने वाले युवा थे, जो 45 साल से नीचे के थे, जबकि 14 मृतक 45 साल से ऊपर के थे। इससे पहले भी कई युवाओं को कोरोना की वजह से अपनी जान गंवानी पड़ी थी। 

तारीख कुल 45 से नीचे 45 से ऊपर 

17 मई 05 00 05

16 मई 04 00 04

15 मई 05 02 03

14 मई 05 02 03

13 मई 05 01 04 

12 मई 05 03 02 

11 मई 05 03 02 

हर उम्र के लोगों को बचाव रखने की जरूरत : डा. संत लाल वर्मा

जिला सिविल सर्जन डा. संत लाल वर्मा ने कहा कि कोरोना से हर उम्र के लोगों को बचाव रखने की जरूरत है। युवा हो या बुजुर्ग कोरोना से हर किसी को बचाव रखना होगा। मास्क और शारीरिक दूरी का प्रयोग करें। ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों से अपील है कि वे बुखार, खांसी या जुकाम होने की स्थिति में अपना कोरोना टेस्ट जरूर कराएं।