जेएनएन, चंडीगढ़। विधानसभा में आक्रामक रही कांग्रेस ने अब सड़कों पर मोर्चा खोल दिया है। अर्थव्यवस्था में मंदी, महंगाई, बेराजगारी, कृषि संकट और व्यापार की तालाबंदी को लेकर कांग्रेसी विधायकों, पूर्व विधायकों और संगठन पदाधिकारियों ने वीरवार को पानीपत और फतेहाबाद में प्रदर्शन किए। 14 नवंबर तक सभी जिला मुख्यालयों पर सिलसिलेवार प्रदर्शन होंगे।

पानीपत में प्रदर्शन की कमान हरियाणा कांग्रेस की प्रधान कुमारी सैलजा ने संभाली। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा शनिवार को नूंह में प्रदर्शनकारियों की अगुआई करेंगे, जबकि 10 नवंबर को कैथल और 11 नवंबर को जींद में आयोजित प्रदर्शन में शामिल होंगे।

इससे पहले शुक्रवार को महेंद्रगढ़, सिरसा और करनाल में प्रदर्शन किए जाएंगे, जहां विधायक राव दान सिंह, डॉ. केवी सिंह और सरदार त्रिलोचन सिंह को प्रदर्शन को सफल बनाने की जिम्मेदारी दी गई है। शनिवार को कैथल के साथ ही गुरुग्राम और पंचकूला में भी प्रदर्शन होगा।

हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा के मीडिया सलाहकार सुनील परती के अनुसार 11 नवंबर को अंबाला, जींद, हिसार और फरीदाबाद तो 12 नवंबर को झज्जर में कांग्रेसी नेता जनता के बीच होंगे। 13 नवंबर को भिवानी, रेवाड़ी, कुरुक्षेत्र व यमुनानगर और 14 नवंबर को चरखी दादरी, रोहतक और पलवल में प्रदर्शन किए जाएंगे। सभी प्रदर्शन पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा और प्रदेश अध्यक्ष कु. सैलजा के नेतृत्व में आयोजित किए जा रहे हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस