करनाल, जागरण संवाददाता। आयकर अदा नहीं करने पर कालोनाइजर राजकुमार जुनेजा पर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। यह कार्रवाई पुलिस ने आयकर विभाग रोहतक से मिले वारंट के आधार पर की। पुलिस ने आरोपित जुनेजा को आयकर टीम के हवाले कर दिया है। अब रोहतक की आयकर टीम इस मामले की जांच करेगी और बकाया आयकर हासिल करने के प्रयास किए जाएंगे।

बताया जा रहा है कि जुनेजा को करीब पांच करोड़ रुपये आयकर अदा करना था। जो ब्याज लगाते हुए करीब नौ करोड़ रुपये तक पहुंच चुका है। इस कार्रवाई के साथ ही कालोनाइजरों में हड़कंप मच गया है। शनिवार की रात को एसपी गंगा राम पुनिया ने आयकर विभाग रोहतक से मिले अरेस्ट वारंट के बाद राजकुमार जुनेजा की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित की। सिविल लाइन एसएचओ रोशन लाल के नेतृत्व में टीम ने जुनेजा को सेक्टर 13 स्थित मार्केट से गिरफ्तार कर लिया। रविवार सुबह उसे आयकर विभाग की टीम के हवाले कर दिया गया।

विभाग की ओर से जुनेजा को आयकर अदा करने के लिए कई बार नोटिस दिए गए, लेकिन उसकी तरफ से आयकर विभाग को कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया। लिहाजा विभाग ने अरेस्ट वारंट जारी किए। एसपी गंगा राम पुनिया के अनुसार आयकर विभाग से मिले वारंट के आधार पर जुनेजा को गिरफ्तार किया गया। इस मामले की जांच आयकर विभाग रोहतक कर रहा है।

अवैध कालोनियां काटकर अर्जित की करोड़ों की संपत्ति राजकुमार जुनेजा का नाम अवैध कालोनियों को लेकर सुर्खियों में रहा है। शहर में अवैध कालोनियों का जिक्र आने पर राजकुमार जुनेजा का नाम प्रमुख तौर पर सामने आता है। यह बरसों से अवैध कालोनी काटने का कारोबार चला रहा है। एक के बाद एक करके उसने शहर के चारों ओर कालोनियां काटी। हद इस बात भी की भी है कि कई लोगों के साथ प्लाट देने के नाम पर धोखाधड़ी भी हुई। उस पर धोखाधड़ी के भी मामले दर्ज है। बरसों से कालोनियां काटकर जुनेजा ने करोड़ों रुपये की संपत्ति अर्जित की, लेकिन आय के अनुसार कर अदा नहीं किया गया।

Edited By: Anurag Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट