पानीपत/जींद, जेएनएन। मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने उचाना की पुरानी अनाज मंडी में भाजपा प्रत्याशी प्रेमलता के समर्थन में हुई जनसभा में जजपा के दिग्विजय चौटाला, दुष्यंत चौटाला का बिना नाम लिए बोलते हुए कहा कि जींद के चुनाव में लोगों ने छोटे युवराज को चित किया तो हिसार लोकसभा में दूसरे को चित किया। अब फिर उचाना में इसको चित करने का काम करें। पहले देश की जनता ने पप्पू को झेला, अब प्रदेश की जनता गप्पू को झेल रही है। इस दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र ङ्क्षसह, सिरसा सांसद सुनीता दुग्गल, हिसार सांसद बृजेंद्र ङ्क्षसह भी मौजूद रहे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि आप लोगों के बीच में कई पार्टियों ने झूठ को पुङ्क्षलदा बना कर फेंकना शुरू कर दिया है। भाजपा वो ही वायदे लोगों से करती है, जो पूरे करती है। जजपा, कांग्रेस छोड़ कर भारी संख्या में लोगों ने भाजपा का दामन थामा। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुष्यंत चौटाला ने कहा था कि खांडा खेड़ी गांव के 74 युवा नौकरी लगे हैं, लेकिन जब पता किया तो मालूम हुआ कि सिर्फ 11 नौकरी ग्रुप डी में लगी थी। ये सिर्फ गप्पे मारने का काम कर लोगों को बहकाते हैं। इसी तरह कई अन्य झूठ पकड़ी हैं। इसलिए इस गप्पू से बचकर रहना है। इनेलो पार्टी पर कटाक्ष करते हुए सीएम ने शायरी करते हुए कहा कि मेरे दिल के टुकड़े हुए हजार, एक इधर गिरा तो दूसरा उधर गिरा। इसी तरह से चश्मा बिखर गया है। सीएम ने 75 पार मंजूर तो उचाना जरूर कहते हुए लोगों में जोश भरा और कहा कि हलके से प्रेमलता को जीतने का काम मतदाता करें। 

ईब तो थारी विधायक घी खा कै तैयार हो रही सै : बीरेंद्र

राज्यसभा सदस्य बीरेंद्र सिंह ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि टिकट वितरण के समय कुछ राजनेता कह रहे थे कि इनका बेटा एमपी है। पति राज्यसभा सदस्य है। अब इनको विधायक वोट क्यों? उन्होंने लोगों से ही सवाल करते हुए कहा कि दुष्यंत भी चुनाव लड़ रहा है। उसकी मां भी लड़ रही है। चाचा भी लड़ रहा है। क्या एक ही कुनबे के नाम राजनीति कर रखी है। बीरेंद्र सिंह ने कहा कि 2014 में प्रेमलता ने दुष्यंत को 7480 वोटों से हराया। लोकसभा चुनाव में भी बृजेंद्र ने हराया। ईब तो थारी एमएलए घी खा कै तैयार हो री सै। ईब पहलां तै भी घणी वोटां तै हरावैगी।

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस