जेएनएन, पानीपत। हरियाणा पुलिस में गत वर्ष चुने गए करीब 5 हजार पुलिसकर्मियों में से 346 का मेडिकल सिविल अस्पताल पानीपत में होना है। शुक्रवार और शनिवार की देर शाम तक 225 का मेडिकल पूरा हो गया। इनमें से 13 कलर विजन टेस्ट में फेल हो गए हैं। डॉक्टरों का पैनल पुलिस के आलाधिकारियों से इस संबंध में मानदंडों की जानकारी लेंगे, इसके बाद फिट-अनफिट का निर्णय लिया जाएगा। गौरतलब है कि मधुबन ट्रे¨नग सेंटर से मेडिकल कराने आए कुल 346 नवचयनितों ने शनिवार को सिविल सर्जन कार्यालय में डेरा डाला। मेडिकल के लिए पर्ची कटवाने और लैब से लेकर, फिजिशियन, नेत्र विभाग, ईएनटी और हड्डी रोग विभाग की ओपीडी में कतार में खड़े देखे गए। सबसे अधिक दिक्कत हड्डी रोग ओपीडी में हुई। यहां जांच के लिए खड़े नवचयनित अंडरवियर और बनियान में सर्दी में ठिठुरते रहे। मेडिकल बोर्ड का नेतृत्व कर रहीं डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. निशि ¨जदल ने बताया कि शाम 7 बजे तक मेडिकल किए गए, बाकी को रविवार को बुलाया गया है। कलर विजन टेस्ट में फेल नवचयनितों पर उन्होंने कहा कि पहले मानदंड की जानकारी ली जाएगी। प्राथमिक जांच में अनफिट मिले युवाओं को रोहतक या करनाल भेजा जाएगा। वहां 3 डॉक्टरों का पैनल इनका मेडिकल करेगा। बता दें कि डीजी हेल्थ कार्यालय से मेडिकल के लिए पहले ही पत्र सिविल सर्जन कार्यालय में आ चुका है। पैनल में शामिल डॉक्टर दोनों दिन शाम तक ड्यूटी देते नजर आए।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस