जागरण संवाददाता, समालखा : चुलकाना के अजय की दिन में कार रोककर शराब पी रहे तीन युवकों से कहासुनी हुई थी। यहां से जाने के बाद दोबारा बाइकों पर आए और लाठी-डंडों से पीट-पीटकर अजय की हत्या कर दी। पुलिस ने उसके छोटे भाई रवि के बयान पर अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। सोमवार को डीएसपी प्रदीप कुमार और थाना प्रभारी राजपाल सिंह ने एफएसएल टीम के साथ मौके का निरीक्षण किया। साथ ही आसपास के ढाबों व दुकानों पर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज भी खंगाली।

रवि ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि उसका भाई अजय नेस्ले कंपनी में नौकरी करता था। वह रविवार दोपहर उसको भी कंपनी में लगवाने के लिए लेकर गया था। अजय कंपनी से कुछ दूर एक शराब के ठेके के सामने कन्फेक्शनरी की दुकान पर बैठ गया। देर शाम आठ बजे बाइकों पर कई युवक आए और अजय पर लाठी व डंडों से हमला कर दिया। उसने शोर मचाया तो बदमाश जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए। वह अजय को जीटी रोड स्थित एक अस्पताल ले गया। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। अजय को रात 10 बजे ड्यूटी पर जाना था।

दुकानदार बोला- अंधेरा था, नहीं पहचान सकता आरोपितों को

दुकानदार नीरज ने बताया कि दोपहर से ही अजय दो अन्य साथियों के साथ उसकी दुकान के बगल में बैठा था। तीन युवक एक सफेद रंग की कार में थोड़ी सी दूरी पर थे। वे गाड़ी की डिग्गी पर सामान रख शराब पी रहे थे। अजय की उनके साथ किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी। पौने सात बजे के करीब युवक कार लेकर वहां से चले गए, लेकिन बाद में बाइकों पर अन्य साथियों को लेकर आए और अजय पर हमला कर दिया। अंधेरे के चलते वह बाइक सवारों को पहचान नहीं सका।

अजय के सहारे चल रहा था परिवार

मृतक के ममेरे भाई नीटू ने बताया कि उसकी बुआ प्रेमो के दो लड़के हैं। अजय बड़ा और रवि छोटा है। उनके पिता तेजपाल की करीब दो साल पहले बीमारी के चलते मौत हो गई थी। जिसके बाद अजय पर परिवार की जिम्मेदारी आ गई थी। वह गत करीब डेढ़ साल से नेस्ले में काम कर परिवार को चला रहा था।

पुलिस ने देखी फुटेज

हमलावरों की पहचान के लिए सोमवार को डीएसपी और थाना प्रभारी ने 70 माइल स्टोन ढाबे के अलावा आसपास की दुकानों पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली। साथ ही ठेके पर काम करने वाले कारिंदे व दुकानदार से भी पूछताछ की।

सिर में चोट बना मौत का कारण

थाना प्रभारी ने बताया कि हमलावरों ने अजय के ऊपर डंडे से चार से पांच वार किए। जिसमें छाती और चेहरे के अलावा एक वार सिर पर लगा। यही उसकी मौत का कारण बना। हत्यारोपितों की पहचान कर जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लेंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप