पानीपत, जागरण संवाददाता। सीबीएसई 12वीं के नतीजे के बाद अब दसवीं का रिजल्ट भी घोषित कर दिया गया है। सभी बच्चे पास हो गए। सीबीएसई स्कूलों में रिजल्ट देखने का उत्साह रहा। बच्चे भी स्कूल में पहुंचे। खुशी में नाचे भी। बता दें कि इस बार परीक्षा के बिना ही रिजल्ट घोषित किया गया है। पिछले तीन साल के रिजल्ट को देखा गया। उसके श्रेष्ठ रिजल्ट को आधार बनाकर नंबर दिए गए हैं। हालांकि मेरिट लिस्ट नहीं बनाई गई।

सेक्टर 12 स्थित एसडी विद्या मंदिर स्कूल में बच्चे पहुंचने लगे। स्कूल की कोर्डिनेटर सीमा सेठी ने बताया कि सभी बच्चे पास हो गए हैं। 12वीं का रिजल्ट भी शानदार रहा था। आर्य बाल भारती स्कूल में बच्चों ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाई।

ये रहा फार्मूला

इंटरनल असेसमेंट के 20 अंक दिए गए

यूनिट टेस्‍ट के दस अंक दिए गए

मिडटर्म के 30 अंक दिए गए

प्री बोर्ड के 40 अंक दिए गए

मेरिट नहीं बनाई

सीबीएसई ने इस साल भी मेरिट नहीं बनाई। कोरोना की वजह से परीक्षा तो रद कर ही दी थी। असेसमेंट के आधार पर परिणाम दिया जाना था। उसी तरह परिणाम निकाला भी। हालांकि जो बच्‍चे इस परिणाम से संतुष्‍ट नहीं होंगे, वह पेपर दे सकेंगे।

6005 बच्‍चे हो गए पास

दसवीं सीबीएसई में पानीपत में 6005 बच्‍चे हैं। सभी के सभी पास हो गए हैं। 12वीं में जिस तरह दसवीं, ग्‍यारहवीं के नंबर जुड़े, ठीक उसी तरह आठवीं और नौवीं के नंबर देखे गए। स्‍कूल में बच्‍चों का असेसमेंट किया गया। यानी, पीछे की पढ़ाई को नहीं छोड़ने वाले, आगे दौड़ने वाले बच्‍चे अव्‍वल रहे। स्‍कूल शिक्षकों का कहना था कि इस तरह से बच्‍चों के दिमाग में रहेगा कि हमेशा बेहतर करेंगे तो आगे भी बेहतर परिणाम आएगा। कोरोना एक सीख दे गया है।

वहीं, कुरुक्षेत्र में सीबीएसई के 72 स्कूल हैं, जिनमें दसवीं कक्षा में 5727 पंजीकृत हैं।

Edited By: Anurag Shukla