अंबाला, [दीपक बहल]। Railway News: हरियाणा और पंजाब सहित देशभर के रेल यात्रियों के अच्‍छी खबर है। अब अनरिर्जव टिकटिंग सिस्टम (यूटीएस) से भी लंबी दूरी के टिकट मिल सकेंगे। इसके लिए रेल मंत्रायल ने प्रस्‍ताव हरी झंडी दे दी है। इसके बाद सभी रेल मंडलों से प्रस्‍ताव मांगे गए हैं कि किन-किन ट्रेनों में कितने डिब्बों को अनरिजर्व किया जाना है। त्‍योहारी सीजन को देखते हुए रेलवे ने कई ट्रेनों में अतिरिक्‍त बोगियां लगाने की तैयारी की है।  

त्योहारी सीजन में यात्रियों की सुविधा को लेकर फैसला, मंडलों ने और ट्रे्नें चलाने के भेजे प्रस्ताव

मंत्रालय ने आदेशों में स्पष्ट कहा है कि रेलवे को आय भी बढ़ानी है और कोरोना गाइडलाइन की पालना करते हुए शारीरिक दूरी का पालना भी करवानी है। मौजूदा समय सामान्य श्रेणी के डिब्बों में भी टिकट बुक करवाकर यात्रा करनी पड़ रही है। मंडल के भेजे प्रस्ताव पर मुहर लगते ही यूटीएस से टिकट मिलते ही यात्री अपने गंतव्य तक पहुंच सकेंगे। दीपावली और छठ पूजा त्योहार के चलते अब ट्रेनों में यात्रियों को कनफर्म टिकट तो छोड़ो वेटिंग टिकट भी नहीं मिल पा रहा।

38 ट्रेनों के तीन-तीन डिब्बों को अनरिर्जव का भेजा प्रस्ताव, 25 से अधिक ट्रेनों में अतिरिक्त डिब्बे की मांग

ऐसे में यह प्रस्ताव यात्रियों के लिए बड़ी राहत लेकर आया है। इसके अलावा 25 से अधिक ट्रेनों कोच की संख्या बढ़ाने का भी प्रस्ताव भेजा है। उधर, सीनियर डीसीएम हरिमोहन ने कहा कि रेल मंत्रालय लंबी दूरी की टिकटें यूटीएस से जारी करनेे की तैयारी में है, जिसके लिए प्रस्ताव भेज दिया गया है। 38 ट्रेनों में तीन-तीन अनरिजर्व बोगियां लगाने का प्रस्‍ताव है।  

--------------

इन ट्रेनों में लंबी दूरी की मिलेगी टिकट

अंबाला मंडल ने कुछ ट्रेनों की सूची तैयार की है, जिसमें सामान्य डिब्बों के लिए यूटीएस काउंटर से टिकट मिल सके। इनमें ट्रेन संख्या 02232/31-चंडीगढ़ से लखनऊ, 04684/83-अमृतसर से लालकुंआ, 04610/09-श्री माता वैष्णो देवी से ऋषिकेश, 04664/63-अमृतसर से देहरादून, 04888/87-बाड़मेर से ऋषिकेश, 04646/45-जम्मूतवी से जैसलमेर, 02528/27-चंडीगढ़ से रामनगर, 05012/11-चंडीगढ़ से लखनऊ, 02238/37-जम्मूतवी से वाराणसी, 04012/11-होशियारपुर से दिल्ली, 04218/17-चंडीगढ़ से प्रयागराज संगम, 04508/07-बठिंडा से ओल्ड दिल्ली, 04666/65-अमृतसर से न्यू दिल्ली, 04078/77-पठानकोट से ओल्ड दिल्ली, 04068/67-अमृतसर से न्यू दिल्ली, 04034/33-कटरा से ओल्ड दिल्ली, 04554/53-दौलतपुर से ओल्ड दिल्ली, 02455/56-दिल्ली सराय रोहिल्ला से बीकानेर, 02471/72-श्रीगंगानगर से ओल्ड दिल्ली शामिल हैं।

यह है रेलवे का प्रस्ताव

अंबाला रेल मंडल ने सोलह ट्रेनों में डिब्बे बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा है। ट्रेन संख्या 02232 चंडीगढ़ से लखनऊ में दो स्लीपर कोच, चंडीगढ़ से प्रयागराज जाने वाली ट्रेन संख्या 04218 में स्लीपर क्लास में दो डिब्बे, चंडीगढ़ से लखनऊ जाने वाली ट्रेन संख्या 05012 में सैकेंड एसी में एक और स्लीपर क्लास में दो डिब्बे, अंबाला से बरौनी जाने वाली ट्रेन संख्या 04534 में सैकेंड एसी में एक, थर्ड एसी में एक,स्लीपर में तीन और जनरल क्लास में एक डिब्बा बढ़ाया जाए। इसी तरह नंगल डैम से कोलकाता जाने वाली ट्रेन संख्या 02326 में थर्ड एसी में एक और स्लीपर में दो, चंडीगढ़ से डिब्रूगढ़ जाने वाली ट्रेन संख्या 04904 में सैकेंड एसी एक, थर्ड एसी में एक, स्लीपर में तीन और जनरल में एक, चंडीगढ़ से नई दिल्ली जाने वाली शताब्दी ट्रेन संख्या 02046 में चेयरकार एक, एग्जीक्यूटिव क्लास में एक, दौलतपुर से पुरानी दिल्ली जाने वाली ट्रेन संख्या 04554 में स्लीपर क्लास में दो डिब्बे बढ़ाने का प्रस्ताव है। इसी प्रकार से और ट्रेनों में भी डिब्बे बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा गया है। इसके अलावा कुछ नई ट्रेनों को पटरी पर लाने की तैयारी है।

दैनिक जागरण उठाया था मामला

दैनिक जागरण ने भी लंबी दूरी की टिकटें न मिलने को लेकर किए जा रहे खेल का पर्दाफाश किया था। टिकट चेकिंग स्टाफ ट्रेन की जगह स्टेशन पर खड़े होकर एक्सेस फेयर टिकट (ईएफटी) बनाते थे। ऐसे में प्रत्येक यात्री को ढाई सौ रुपये का जुर्माना चपत तो लगती थी और अधिक किराया देना पड़ता था। उदाहरण के लिए अमृतसर से कटिहार ट्रेन जा रही है और यात्री को अंबाला से सफर करना होता था, लेकिन उसे किराया लुधियाना से कटिहार का देना पड़ता था, क्योंकि स्टेशन पर तैनात चेकिंग स्टाफ अपने को ट्रेन में ड्यूटी दिखाता था।

Edited By: Sunil Kumar Jha