पानीपत/कैथल, जेएनएन। कैथल में प्रेम विवाह करने वाले सर्राफ की गोली मारकर हत्या कर दी गई। गुहला हलके के गांव भैंगड़ा में ज्वेलर प्रिंस वर्मा की तीन युवकों ने दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक के भाई राजकुमार ने इस संबंध में प्रिंस के साले सहित तीन लोगों के खिलाफ हत्या का नामजद मामला दर्ज कराया है। 

राजकुमार ने पुलिस को बताया कि प्रिंस ने तीन साल पहले प्रेम विवाह किया था। इससे लड़की के परिजन नाखुश थे और बार-बार अंजाम भुगतने की धमकी दे रहे थे। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ऑनर किलिंग की आशंका जता रही है।

इस तरह वारदात को दिया अंजाम

राजकुमार ने पुलिस को बताया कि प्रतिदिन की तरह वह दोपहर के समय अपने दोस्त गोगी के साथ भाई को खाना देने गया था। दुकान पहुंचा तो वहां प्रिंस का साला कुरुक्षेत्र के गांव नीमवाला निवासी बलराम और उसके दो दोस्त इशाक जॉनी और गुरदीप खड़े थे। इससे पहले कि कोई कुछ समझ पाता बलराम ने पिस्तौल निकाल प्रिंस पर फायर कर दिया और बिना नंबर वाली बाइक से तीनों आरोपित फरार हो गए। गोली प्रिंस के सिर में लगी। 

  panipat

गुहला चीका के गांव भागल निवासी युवक प्रिंस की गोली मारकर हत्या करने की घटना के बाद जानकारी देता मृतक का भाई मोनू।

तीन लोगों पर केस दर्ज

उसने और आसपास के लोग प्रिंस को लेकर गुहला के सरकारी अस्पताल पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। जानकारी मिलने के बाद डीएसपी किशोरी लाल, गुहला सीआइए थ्री और चीका पुलिस ने घटना स्थल का मुआयना किया। गुहला डीएसपी किशोरी लाल ने बताया कि सर्राफ की हत्या के मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर जांच की जा रही है। 

शादी तोडऩे का डाला जा रहा था दबाव 

राजकुमार ने पुलिस को बताया कि प्रिंस ने तीन साल पहले कुरुक्षेत्र के गांव नीमवाला निवासी सुनीता के साथ शादी की थी। सुनीता के परिवार वाले शादी से खुश नहीं थे। सुनीता के माता-पिता, भाई व बहन उनके घर आकर अक्सर कहते थे कि प्रेम विवाह करके प्रिंस ने गलत किया है। शादी तुड़वा दो, नहीं तो इसका परिणाम भुगतना होगा। राजकुमार ने वारदात की साजिश में प्रिंस के ससुर गुरदीप सिंह, सास बिमला देवी, साला काला और साली प्रवीन के भी शामिल होने का आरोप लगाया है।

 panipat

 घटनास्‍थल का निरीक्षण करती फोरेंसिंक टीम।

विवाह बाद से ही प्रिंस को मिल रही थी जान से मारने की धमकियां

कुरुक्षेत्र के गांव नीमवाला निवासी सुनीता देवी के साथ तीन साल पहले प्रेम विवाह करने वाले ज्वेलर्स प्रिंस वर्मा को विवाह के बाद से ही जान से मारने की धमकियां मिल रही थी। इस विवाह से उसकी सुसराल वाले नाराज थे। प्रिंस के साथ उसके परिवार वालों को भी धमकी दी जा रही थी या तो इस शादी तो तुड़वा दो, नहीं हो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहो। इस कारण प्रिंस व उसके परिवार के लोग हर समय भय के साये में जीवन यापन करने को मजबूर थे। परिवार के लोगों को हर समय किसी अनहोनी का डर बना रहता था। सोमवार सुबह जब प्रिंस रोजाना की तरह मैंगड़ा गांव स्थित अपनी दुकान पर गया, लेकिन परिवार के लोगों को क्या पता था कि आज वे वापस लौटकर नहीं आएगा। प्रिंस की मौत से परिवार के लोग जहां सदमे में हैं, वहीं भय का माहौल भी बना हुआ है। 

बिना नंबर की मोटरसाइकिल पर आए थे आरोपित

मैंगड़ा गांव के लोगों का कहना है कि दोपहर का समय था। प्रिंस वर्मा अपनी दुकान पर काम कर रहा था। अचानक बिना नंबर की एक मोटरसाइकिल दुकान से कुछ दूरी पर आई, जिसपर तीन युवक सवार थे। इनमें से एक युवक दुकान के अंदर गया और प्रिंस से बात करते हुए गोली चला दी। इसके बाद आरोपित फरार हो गए। जैसे ही ग्रामीणों को गोली चलने की आवाज सुनाई दी तो वे ज्वेलर्स की दुकान की तरफ दौड़े तो अंदर प्रिंस खून से लथपथ पड़ा हुआ था। ग्रामीणों ने वारदात के बारे में  पुलिस को सूचना दी। ग्रामीणों का कहना कि दिन-दहाड़े युवक की हत्या की वारदात से हर कोई डरा हुआ है। लोगों का कहना है कि बड़े आराम से आरोपितों ने इस वारदात को अंजाम दिया। इससे लग रहा है कि आरोपितों को पुलिस का भी कोई भय नहीं है।

जिले में बढ़ रही फायरिंग की घटनाएं

जिले में फायरिंग की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। पिछले माह जहां कैथल शहर में फायरिंग की तीन वारदातें हो चुकी हैं, वहीं अब गुहला में गोली मारकर सर्राफ की हत्या करने की वारदात से हर किसी की जुबान पर अपराध बढऩे की चर्चा है। कैथल शहर के हुडा सेक्टर 19 में एक व्यक्ति को घर के बाहर गोली मारकर आरोपित फरार हो गए थे, लेकिन आज तक  आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं हुई। इसी प्रकार ढांड रोड चौक से जब चार युवक कार में जा रहे थे तो आरोपितों ने फायरिंग कर दी थी। इस वारदात में गोली लगने से एक युवक घायल हो गया था। तीसरी वारदात पिछले सप्ताह ढांड रोड पर मौजूदा विधायक लीला राम के निवासी के नजदीक चलती कार पर फायरिंग की थी। इस वारदात में तीन आरोपित पुलिस ने दो दिन पहले ही गिरफ्तार किए हैं। लोगों का कहना है कि फायरिंग की बढ़ रही वारदातों को लेकर पुलिस को गंभीरता से काम करते हुए अपराध पर लगाम लगानी चाहिए। 

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस