अंबाला, जेएनएन। कोरोना से बचाव के लिए अंबाला छावनी में नगर परिषद द्वारा सैनिटाइजर किया जा रहा है। रोजाना करीब 1500 लीटर सैनिटाइजर अंबाला के गली-मौहल्लों में हो रहा है, लेकिन अब सैनिटाजइर की किल्लत पड़ने लगी है। सैनिटाइजर की किल्लत को दूर करने के लिए स्वास्थ्य विभाग से डिमांड की गई है। करीब चार हजार लीटर सैनिटाइजर कोरोना से बचाव के लिए मागा गया, मगर स्वास्थ्य विभाग ने भी हाथ खड़े कर लिए है। क्योंकि सैनिटाइजर पर्याप्त मात्रा में विभाग के पास नहीं है। अधिकारियों का कहना है कि स्टॉक आने के बाद ही सैनिटाइजर की व्यवस्था की जाएगी। फिलहाल सैनिटाइजर की व्यवस्था कर पाना मुश्किल है।

टैक्टर और टैंकर से किया जा रहा छिड़काव

नगर परिषद के पास वाहनों की कमी है। जिसके चलते नगर परिषद द्वारा टैक्टर में पानी की टंकी, टैंकर द्वारा सैनिटाइजर किया जा रहा है। बाजार, मैरीज होम, इंडस्ट्री एरिया, पार्क आदि में स्प्रे किया जा रहा है। इसके अलावा नगर परिषद ने करीब 20 कर्मचारी मैदान में उतारे है। जो लोगों के घर-घर जाकर सैनिटाइज कर रहे। इसके अलावा लोगों को मास्क का वितरण भी किया जा रहा है।

नगर परिषद के सचिव राजेश कुमार का कहना है कि हमारे पास जो सैनिटाइजर था। उसका छिड़काव किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग से और सैनिटाइजर की डिमांड की गई है। फिलहाल विभाग ने सैनिटाइजर देने से इंकार कर दिया है। स्टॉक आने के बाद ही व्यवस्था हो जाएगी।