इसराना (पानीपत), संवाद सहयोगी। रोहतक पानीपत नेशनल हाईवे पर बलाना मोड पर गन्ने से भरी ट्रैक्टर ट्राली को डंपर ने टक्कर मार दी। जिस हादसे मे ट्रैक्टर चालक युवक की मौके पर मौत हो गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि ट्रैक्टर ट्राली को 100 मीटर तक डंपर चालक आगे घसीटते हुए बलाना मोड तक ले गया। जहां ट्राली पलट गई और ट्राली लोड गन्ना सडक पर बिखर गया।

सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंच शव को पानीपत के सिविल अस्पताल मे रखवा दिया है। हादसा सोमवार रात करीब 12 बजे का है। युवक की पहचान सुमित (26) पुत्र धुपसिंह निवासी मोरखी जींद के रूप मे हुई है। सुचाना मिलते ही मौके पर एनएचएआई के कर्मचारियों ने मौके पर पहुंच कर नेशनल हाईवे जौधंन खुर्द मोड से लेकर बलाना मोड तक डाइवर्ट करवाया। इससे हाईव पर जाम की स्थिति भी बनी रही।

बताया जा रहा कि युवक अहर मामा के खेत से ट्रैक्टर ट्राली मे गन्ना लोड कर शुगर मिल डाहर मे डालने जा रहा था। जब वह रात करीब 12 बजे रोहतक पानीपत नेशनल हाईवे पर बलाना मोड1 के पास पहुंचा तो पीछे से आ रहे तेज रफ्तार डंफर ने टक्कर मार दी। जिस के बाद ट्रैक्टर चालक सीट से नीचे गिर गया और उसके ऊपर ट्राली गिर गई और मौके पर मौत हो गई। सूचना मिलते इसराना पुलिस ने मौके पर पहुंच शव को सिविल अस्पताल पानीपत के शव गृह मे रखवा दिया है।

मामा की मौत के बाद उनके खेत का गन्ना मिल मे डालने जा रहा था सुमित कई वर्षों से अहर मे अपने मामा के घर रह रहा था। उसके मामा राजबीर की छह माह पहले मौत हौ गई थी। जिसके बाद वह मामा के खेत अहर से ट्रैक्टर ट्राली मे गन्ना लोड कर शुगर मिल डाहर मे डालने जा रहा था।

दो बच्चों के सिर से उठा साया

मृतक की मां गुड्डी देवी और पत्नी सपना के साथ एक 4 वर्ष का लड़का और एक 2 वर्ष की लड़की है। बचपन मे ही सुमित के पिता धुप सिंह की भी मृत्यु हो गई थी। छोटा भाई अंकित की भी तीन वर्ष पहले मृत्यु हो गई थी। सुमित इकलौता ही घर मे कमाने वाला था। अब परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है। अब बच्चों का पालन पोषण बच्चों की दादी और पत्नी पर निर्भर हो चुका है।

Edited By: Anurag Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट